दहेज की बलिवेदी पर दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो चली एक और नवविवाहिता ….

1 min read

दहेज की बलिवेदी पर दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो चली एक और नवविवाहिता ….

विवाहोपरांत बढ़ी ससुरालवालों की डिमांड …

अम्बेडकरनगर। जनपद के थाना अहिरौली अन्तर्गत अटवाई निवासिनी एक नवविवाहिता की आज दहेज दानवों के चंगुल में फंसकर दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो चली है ।
विदित हो कि उक्त गांव निवासिनी स्व .दयाशंकर की पुत्री कुमकुम गुप्ता का विवाह गत वर्ष 26 नवम्बर 2020 को अहिरौली थाना क्षेत्र अन्तर्गत अर्जुन पुर के मिठाई लाल के पुत्र संतोष गुप्ता के साथ हिंदू रीति रिवाज़ के साथ हुआ । यथाशक्ति दहेज नहीं लड़की पक्ष द्वारा दिया गया था । कुछ दिनों तक सबकुछ ठीकठाक चलता । फिर ससुरालियों की तरफ से दहेज की नई मांग शुरू हो गयी । जिसमें दो लाख रुपये नक़द व एक कार शामिल हो गया । इस नई मांग को लेकर ससुराली नवविवाहिता को शारीरिक व मानसिक प्रताड़ित भी करना शुरू कर दिये । नवविवाहिता के सम्बन्ध सहेजने के लिए समाज की पंचायतों का कई दौर भी चला पर बेनतीजा ही रहा । दहेज लोभी अपनी मांग पर ही अड़े रहे । अन्ततः गत 15 जुलाई 2021को दहेज दानवों का उत्पीड़न अपनी सारी हदें पार कर दी लात घूंसे से जबरदस्त पिटायी करते हुए , मिट्टी का तेल डालकर जलाने की धमकी देते हुए गला दबा कर मारने का प्रयास किया गया । उसके सारे जेवरात छीन कर सायं घर से निकाल दिये । भयाक्रान्त कुमकुम रोती बिलखती लड़खड़ाती कदमों से अपने मायके पहुंचकर आपबीती अपने माँ व भाइयों को सुनायी । पीड़िता लिखित सूचना पर स्थानीय थाना अहिरौली ने पति संतोष गुप्ता , ससुर मिठाई लाल , सास समुन्द्रा देवी , ननद लाल मनी व पति की मौसी शिव कुमारी के खिलाफ़ धारा 498 A , 323,504,506,3,4 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित