राकेश कुमार चौधरी ने तोड़ी सदियों पुरानी तिस्लिम ….

1 min read

राकेश कुमार चौधरी ने तोड़ी सदियों पुरानी तिस्लिम ….

107 वर्ष पूर्व स्थापित हुए राजधानी की उच्च न्यायालय में पहली बार अध्यक्ष पद पर पिछड़ी जाति का हुआ कब्जा …

समाजवाद के प्रणेता की सरज़मीं पर पैदा हुए नवनिर्वाचित अध्यक्ष जनपद अम्बेडकर नगर के ही मूल निवासी हैंं 

विनोद वर्मा / विजय चौधरी 

लखनऊ। जनपद अम्बेडकर नगर के मूल निवासी राकेश कुमार चौधरी राजधानी लखनऊ के प्रतिष्ठित व मजबूत माने जाने वाले उच्च न्यायालय के सदियों पुरानी अवध बार एसोसिशन अध्यक्ष पद पर निर्वाचित हुए । उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी आनंद मणि त्रिपाठी को एक मतों से पराजित किया ।
सूत्रों की माने तो वर्ष 1914 में स्थापित हुए उक्त न्यायालय के बार बेंच से पहली बार किसी पिछड़ी जाति का व्यक्ति अध्यक्ष पद पर आसीन हो सका है ।
अपनी पराजय से खीझे आनंदमणि त्रिपाठी व उनके समर्थकों द्वारा बवाल शुरू किये जाने पर काउंटिंग के रिटर्निंग आफिसर बनाये गये वरिष्ठ अधिवक्ता इंद्रभूषण सिंह ने राकेश चौधरी के विजयी होने की घोषणा करते हुए बताया यही निष्पक्ष है । यदि मेरी निष्पक्षता के निर्णय पर किसी को आपत्ति है तो मैं इस्तीफा दे सकता हूँ ! पर निर्णय नहीं बदल सकता ।
ज्ञात हो कि नवनिर्वाचित अध्यक्ष जनपद अम्बेडकर नगर अन्तर्गत विकासखण्ड बसखारी के अरूसा आज़म पुर के मूल निवासी हैंं । शिक्षा , वैभवता व सम्पन्नता के परिवार में जन्मे राकेश चौधरी पूर्व अपर महाधिवक्ता उत्तरप्रदेश के पद पर भी अपनी सेवा दे चुकें हैंं ।
उनके इस ऐतिहासिक निर्वाचन से राजधानी सहित उनके गृह जनपद अम्बेडकर नगर से भी बधाईयों का सिलसिला जारी है । जिला पंचायत अध्यक्ष श्यामसुन्दर वर्मा , कांग्रेस जिलाध्यक्ष जितेंद्र कुमार वर्मा , पूर्व एम एल सी विशाल वर्मा , विधानसभा कटेहरी विधायक लालजी वर्मा , पूर्व मंत्री राम मूर्ति वर्मा , पूर्व चेयरमैन चन्द्रप्रकाश वर्मा , ब्लॉक प्रमुख गण सुरजीत वर्मा , अनिल कुमार वर्मा मौसम वर्मा , प्रतिनिध आनंद वर्मा , प्रधान संघ जिलाध्यक्ष अम्बेडकर नगर सियाराम वर्मा , विधान चन्द्र चौधरी , राजेन्द्र चौधरी सहित अन्य जनपद वासियों ने खुशियों का इज़हार करते हुए बधाई दी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित