अयोध्या सदर विधानसभा से दिग्विजय निषाद आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी घोषित

1 min read

अयोध्या सदर विधानसभा से दिग्विजय निषाद आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी घोषित

अयोध्या/फैजाबाद, राजू निषाद (अवधी खबर)। आम आदमी पार्टी अयोध्या मंडल जनपद के सदर विधानसभा दिग्विजय निषाद को प्रत्याशी और प्रभारी बनाया है। ज्ञात हो दिग्विजय निषाद पूर्व मंत्री सीताराम निषाद के पुत्र हैं। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी में रहे हैं तथा अपने पिता की जन्म और कर्म भूमि पर पिछला पंचायत चुनाव अपनी पत्नी रेखा निषाद को चुनाव पढ़ाया था। चुनाव जीतने के करीब पहुंचकर मामूली मतों से चुनाव हार गई। भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनाव में काफी मेहनत करके पार्टी को जीत का सेहरा गोसाईगंज विधानसभा में बंधवाया। उसके बाद से सक्रिय राजनीति थोड़ा सा दूरी बना लिए। आसन्न विधानसभा का चुनाव लगभग 6 महीने बाकी है। अब आम आदमी पार्टी का दामन थामा है। पार्टी का दामन थामते ही कुछ दिनों के बाद पार्टी ने प्रत्याशी घोषित करके और विधानसभा का प्रभारी बना दिया। पूर्व मंत्री सीताराम निषाद विकास पुरुष के नाम से जाने जाते थे। तत्कालीन फैजाबाद अब के अयोध्या जिले में फूलों का जाल बिछाने का काम किया था। लगभग ढाई दशक तक बीकापुर विधानसभा का प्रतिनिधित्व किया। अपने राजनैतिक कैरियर की शुरुआत भारतीय क्रांति दल के साथ की थी। उसके बाद कांग्रेस और समाजवादी पार्टी से होते हुए भारतीय जनता पार्टी में भी गए। अपने पुत्र को राजनैतिक पाठशाला में स्थापित करने में असफल रहे हैं। इनकी माता जी भी तारुन ब्लाक ब्लाक प्रमुख रही हैं। आम आदमी पार्टी ने उत्तर प्रदेश के प्रभारी राज्यसभा सांसद संजय सिंह व प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह के साथ मिलकर नई राजनीतिक शुरुआत करेंगे। अब देखना है कि श्री निषाद की नैया को आम आदमी पार्टी लगाएगी। अयोध्या विधानसभा दो नदियों के छोर पर बसी है। उत्तर में सरयू नदी और दक्षिण में तमसा नदी इसकी सीमा है। नदी के किनारे मछुआ समुदाय की आबादी को ध्यान में रखते हुए आम आदमी पार्टी ने समीकरण पर दांव लगाया है। इस विधानसभा के अधिकतर मतदाता अयोध्या नगर निगम और मशौधा विकास खण्ड पूरा विकास खण्ड के अंतर्गत आते हैं। पार्टी का जनाधार ग्रामीण क्षेत्रों में अभी नहीं है। पार्टी ने अपने दिल्ली सरकार के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कामों के द्वारा आम आदमी के बीच में पकड़ बनाने का काम करेगी। इसके लिए पार्टी ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री शिक्षा श्रम विभाग जिनके पास है उनको उत्तर प्रदेश में लगभग 2 साल से सक्रिय कर रखा है। बेसिक शिक्षा के स्तर को काफी अच्छा बनाने का काम किया है। कि मुद्दे को इसी मुद्दे को दिग्विजय निषाद ग्रामीण क्षेत्रों में बताएंगे और आम आदमी पार्टी का वोट अपने और पार्टी के खाते में करने की पुरजोर कोशिश करेंगे। राजनीति इनको विरासत में मिली है। पिता के नाम को और दिल्ली के मुख्यमंत्री के कामों को कितना जनता के बीच में बुना ले जाएंगे आने वाला वक्त ही बतायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित