ईमान की सलामती के लिए करते रहें दुआ : मौलाना जफ़र अली

1 min read

ईमान की सलामती के लिए करते रहें दुआ : मौलाना जफ़र अली


अंबेडकरनगर। पाक परवर दिगार से अपने ईमान की सुरक्षा व सलामती के लिए हर समय दुआ किया करो, क्यों कि बंदों को बहकाने के लिए शैतान ने तो मोहलत ले ही रखी है।
मौलाना जफर अली रिजवी मोहल्ला मीरानपुर स्थित तनवीर हुसैन जैदी के अजाखाने में मजलिस के वार्षिक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। प्रयाप्त संख्या में उपस्थित अजादारों को आकृष्ट करते हुए उन्होंने कहा बड़े से बड़े ईमान वालों की भी आस्था डगमगाने की घटना इतिहास में दर्ज है। इबलीस को मनुष्य के जीवन के किसी हिस्से में भले ही बहकाने में सफलता न मिले लेकिन अंतिम क्षणों में वह प्रायः अपने उद्देश्य में सफल हो जाता है। कारण यह कि उस समय इंसान के सोचने समझने की शक्ति क्षीण हो जाती है। लिहाजा दीन पर मुकम्मल ईमान के साथ अल्लाह, रसूल, कुरान और अहलेबैत से प्रेम, आस्था, निष्ठा के प्रति एक पल के लिए भी गाफिल न रहो अन्यथा आखिरत की बर्बादी निश्चित है। मौलाना जफर अली ने अंत में कहा खालिके कायनात नियमित नमाज के अतिरिक्त रात्रि के तीसरे पहर की इबादत यानी नमाजे शब को बहुत पसंद करता है। हम सब को सांसारिक जीवन से अधिक मृत्युलोक के बारे में ध्यान देना चाहिए, इसलिए की वह जीवन अनन्त है। मजलिस में मौलाना मोहम्मद अब्बास रिजवी, तस्वीर हुसैन, दिलवर हुसैन नफीस, आरिफ अनवर, तफसीर हुसैन, सरवर हुसैन जैदी, परवेज, नज्जन, मोहम्मद हैदर, अरबी, ताजीम, जैबी सहित अन्य लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित