सांसें हो रही हैं कम, आओ पेड़ लगाएं हम : डॉ ओ पी चौधरी

1 min read

सांसें हो रही हैं कम, आओ पेड़ लगाएं हम : डॉ ओ पी चौधरी

वाराणसी। 23 अगस्त, 2021को गांधी पीस फाउंडेशन नेपाल द्वारा पर्यावरण योद्धा सम्मान से सम्मानित, काशी की सामाजिक संस्था सहयोगी के सचिव,पीपल,नीम,तुलसी अभियान पटना से जुड़े पर्यावरण स्नेही डा ओ पी चौधरी ने राजा तालाब,वाराणसी के उप जिलाधिकारी एवं गांधीवादी मदन मोहन वर्मा के नेतृत्व में, बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व प्रबंधक रमेश चन्द्र मौर्य तथा सर्व सेवा संघ के संयोजक अरविंद अंजुम के साथ मिलकर गाँधी विद्या संस्थान, राजघाट के परिसर में गांधी प्रतिमा के चारों ओर विकसित पार्क में वृक्षारोपण करते हुए पेड़ों की महत्ता एवं प्रकृति के संरक्षण के संबंध में बात करते हुए बताया कि बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण के कारण शुद्ध प्राणवायु की कमी होती जा रही है। ऐसे में अधिक से अधिक पेड़ लगाकर हमे उनका संरक्षण करना चाहिए जिससे जीवन का संरक्षण हो सके और हमें स्वच्छ वातावरण मिल सके,शुद्ध सांसें हम भावी पीढ़ी के लिए उपलब्ध करा सकें। वृक्ष विभिन्न प्रकार के प्रदूषण से हमारी रक्षा करते हैं।डॉ चौधरी ने यह भी कहा कि भूमि की शक्ति,आवश्यकता की पूर्ति और पर्यावरण की स्थिति के अनुरूप सही प्रजाति का चयन वृक्षारोपण के लिए करना चाहिए। एस डी एम मदनमोहन वर्मा ने कहा कि प्रकृति का संरक्षण सुनहरे भविष्य का संरक्षण है,जैव विविधता का संरक्षण है, सभ्यता और संस्कृति और प्राणियों का संरक्षण है। हमें अधिक से अधिक वृक्षारोपण करना चाहिए,ताकि भारत जैसे विकासशील देश में इतनी विशाल जनसंख्या के लिए जल,लकड़ी,जलावन,चारा तथा आवास के लिए संसाधन उपलब्ध हो सके।
केंद्र और प्रदेश सरकारें सामाजिक वानिकी के माध्यम से समाज में पेड़ों के प्रति जागरूकता लाने का निरंतर प्रयास कर रहे है और बड़े पैमाने पर बृक्षारोपण अभियान भी चला रहे हैं। किंतु हमें इसे जन आन्दोलन बनाना होगा। क्योकि प्रतिदिन पूर्ण रूप से विकसित लाखों पेड़ काटे जाते हैं। इसलिए जरूरी है कि वन विहीन क्षेत्रों में अधिक से अधिक पेड़ लगाएं जाय। श्री वर्मा ने महात्मा गांधी जी के प्रकृति के संबंध में विचारों से भी अवगत कराया। यहां यह बताना समीचीन होगा कि सर्व सेवा संघ परिसर में मदन मोहन वर्मा जी ने पूज्य बापू की आदमकद प्रतिमा की स्थापना का कार्य भी किया है,जिससे लोग राष्ट्रपिता से प्रेरणा ले सकें। रमेश चन्द्र मौर्य ने अपने उदबोधन में कहा कि प्रकृति जीवन रक्षक है,उसके पास अपार भंडार है,जिसका उपयोग हम अपने जीवन यापन के साथ सभी प्राणियों के जीवन रक्षा के लिए कर रहे हैं। हमें हर स्थिति में अधिक से अधिक पेड़ लगाने होंगें।इस अवसर पर कुल 27 पेड़ लगाए गए,इस मौके पर सुरेंद्र बहादुर सिंह,तारकेश्वर,अतुल आदि लोग उपस्थित थे।

डा ओ पी चौधरी
पर्यावरण स्नेही
संरक्षक,अवधी खबर
एसोसिएट प्रोफेसर, मनोविज्ञान विभाग
श्री अग्रसेन कन्या पी जी कॉलेज वाराणसी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित