खाक़ी वर्दी व बूटों की हनक से सिसकता अकबरपुर पुरानी तहसील तिराहे का मुसाफ़िर इंतजार स्थल ….

1 min read

खाक़ी वर्दी व बूटों की हनक से सिसकता अकबरपुर पुरानी तहसील तिराहे का मुसाफ़िर इंतजार स्थल ….

दुश्वारियां झेलने को मजबूर हो चलें है यात्री …

जनपद के आलाधिकारियों को भी नहीं रही इसकी परवाह …

विजय चौधरी / सह संपादक

अम्बेडकरनगर। जनपद अम्बेडकर नगर मुख्यालय का सबसे व्यस्ततम पुरानी तहसील तिराहे पर यात्रियों की सुविधा के लिए बनाया गया प्रतीक्षालय इस समय पूरी तरह खाक़ी वर्दी के आगोश में आ चुका है । यात्रियों को खुले आसमान के नीचे सड़क पर उतर कर बरसात व उमस भारी गर्मी को झेलने के लिए मज़बूर होना पड़ रहा है ।
ज्ञात हो कि जनपद मुख्यालय का यह अति व्यस्ततम क्षेत्र जहाँ से जनपद के आलाधिकारियों व विशिष्टगणों का प्रतिदिन आवागमन लगा रहता है । फिर भी किसी को इन राहगीरों की परेशानी से कोई वास्ता नहीं दिखता ! जबकि पूरी तरह से यह स्थल सड़क के दोनों तरफ की पटरी पूरी तरह अतिक्रमण की चपेट से हमेशा घिरा रहता है । हद तो तब हो गयी जब उक्त यात्री प्रतीक्षालय खाक़ी ने अपने कब्जे में लेते हुए उसमें ताला जड़ दिये , यात्री को निर्वसन कर सड़क पर लाकर इस बरसात के मौसम में भीगने व उमस भरी गर्मी से तड़पने को मजबूर कर दिया । पूरी तरह से अतिक्रमित हो चुकी सड़क के पटरी के मनबढ़ , सरकस व गिरोहबंद दुकानदारों से आये दिन अपमानित हो रहें हैंं । सबसे असहनीय स्थित उस समय उभर कर सामने आती है जब बुज़ुर्ग , नौनिहाल जहाँ तड़पते नज़र आतें हैंं ! साथ पर्दानशीन महिलाएं इन बेअदब दुकानदारों के सलीके से खुद को असहज होकर दुश्वारियां झेलने को मजबूर हो रहीं हैंं । वह भी कानून के रखवाले खाक़ी के सामने ही । जबकि इसी रास्ते से दिन कई बार जनपद के आला अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों का आवागमन बना रहता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *