बिजली के गुल होते ही नेटवर्क भी हो जा रहा है ग़ायब …

1 min read

बिजली के गुल होते ही नेटवर्क भी हो जा रहा है ग़ायब …

एक पखवारे से दुश्वारियों का सामना कर रहें हैंं विशेषकर एयर टेल उपभोक्ता ….

आजिज आ चुकें हैंं ग्रामीण उपभोक्ता …

विजय चौधरी / सह संपादक

अम्बेडकरनगर। आज जब हमारा समाज 21 वीं सदी में हाईटेक क्रांति के बदौलत अपनी बुलन्दी की नई इबारत लिखने को बेताब है । दुनियां जहाँ 2-जी , 3-जी , 4- जी के बाद आज 5- जी को सफलतापूर्वक संचालित करने को आतुर है । हमारी दैनिक दिनचर्या के हर कदम शिक्षा , व्यापार , बैंकिंग , विकास आदि सभी पर हाईटेक के बदौलत विकास को पंख दिये जा रहें हैंं । वहीं हमारा देश समुचित नेटवर्क दे पाने में ही खुद को असक्षम पा रहा है । ऐसे सबसे बद्तर स्थित ग्रामीण आंचल की है ।
ग्रामीण आंचल में बिजली के गुल होते ही मोबाइल के नेटवर्क का सिंगनल भी ग़ायब हो जा रहा है । एक पखवारे से ऐसी स्थित बनी हुई है ।जिससे बैंकों के लेनदेन व अन्य व्यवसाय भी प्रभावित हो रहें हैंं । सबसे दयनीय स्थित एयर टेल का है ।
विदित हो कि लगातार कम्पनियों की उदासीनता , ठगी व निष्ठुरता झेल रहे उपभोक्ताओं का आरोप है कि अबतक आजीवन रिचार्ज को बन्द से बचाने के लिए बीच में ही रिचार्ज करवाना पड़ रहा है , 29 से 31 तक होने वाले महीने टेली फोन विभाग ने 28 दिन कर दी वहीं डीजल तथा बिजली से चलने वाले उपकरणों के अब सिर्फ बिजली पर ही निर्भर कर दिया गया । जिससे बिजली के गुल होते ही मोबाइलों के सिंगनल खामोश हो जा रहें हैंं । जो उपभोक्ताओं के परेशानी का सबब बन गया है । विशेषकर नेट चलाने वाले उपभोक्ताओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *