राजाराम वर्मा का जीवन सेवाभाव के लिए समर्पित था : लालजी वर्मा

1 min read

राजाराम वर्मा का जीवन सेवाभाव के लिए समर्पित था : लालजी वर्मा

अम्बेडकरनगर। सरदार पटेल स्मारक इंटर कॉलेज लारपुर,अंबेडकरनगर के अवकाश प्राप्त शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक संघ जनपद अम्बेडकरनगर के अध्यक्ष राजाराम वर्मा का संपूर्ण जीवन लोगों की सेवा के लिए समर्पित था। किसी भी शिक्षक की कोई भी समस्या हो वे तुरंत उसके समाधान को तत्पर हो जाते थे। पीड़ित मानवता की सेवा को ही अपना धर्म मानते थे, उनकी इसी भावना ने लोगों ने उन्हें अपने गांव लाभापार,जलालपुर का ग्राम प्रधान भी चुना। शिक्षक समुदाय ने अवकाश ग्रहण करने के बाद भी उन्हें निर्विरोध जिलाध्यक्ष पद पर बिठाए रहा। उक्त उदगार अंबेडकरनगर के विकासपुरुष उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री एवम् कटेहरी विधान सभा क्षेत्र के सदस्य विधान सभा लालजी वर्मा ने उनके पैतृक आवास लाभापार में आयोजित शोक्सभा/तेरही में व्यक्त किया। इस मौके पर अकबरपुर के विधायक राम अचल राजभर ने भी स्व.वर्मा के कार्यों की सराहना किया। पेशे से शिक्षक और जलालपुर के विधान सभा सदस्य सुभाष राय ने भी वर्मा जी के निधन को समाज की अपूर्णनीय क्षति बताया। बीजेपी के नेता और अवध विश्वविद्यालय अयोध्या के प्रो राजेश सिंह ने भी संवेदना व्यक्त किया। बीजेपी आईटी सेल अंबेडकरनगर के प्रमुख वीरेंद्र वर्मा ने भी श्रद्धांजलि अर्पित किया।
प्रख्यात शिक्षाविद,पूर्व प्रधानाचार्य एवम् सरदार पटेल स्मारक पी जी कॉलेज,लारपुर सहित अनेक शिक्षण संस्थाओं के संस्थापक व प्रबंधक कमला प्रसाद वर्मा ने अपनी संवेदनाओं को व्यक्त करते हुए राजाराम वर्मा को बहु आयामी व्यक्तित्व का धनी बताते हुए उनके सेवाभाव को नमन किया। उन्होंने बताया कि स्व.वर्मा 1976 में सहायक अध्यापक के रूप में कॉलेज में आए थे और 2013 में अवकाश ग्रहण कर जन सेवा में सन्नद्ध थे। स. प.स्मा. इ. का.लारपुर के पूर्व प्रधानाचार्य राष्ट्रपति सम्मान से पुरस्कृत डा राम उजागिर वर्मा ने अपनी स्मृतियों को साझा किया। इस अवसर पर अंबेडकरनगर जनपद के विभिन्न विद्यालयों के शिक्षकों के साथ ही अनेक जनपदों के शिक्षक नेता और अन्य लोग कार्यक्रम में शिरकत किए। अमेठी में इंटर कॉलेज से अवकाश प्राप्त प्रवक्ता त्रिभुवन चौधरी ने शोक व्यक्त करते हुए बताया कि जलालपुर जाते समय थानाध्यक्ष मालीपुर के सरकारी वाहन ने वर्मा जी की मोटरसाइकिल में टक्कर मार दिया था। लखनऊ मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई थी। आज उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने हेतु शोकसभा/तेरही का आयोजन किया गया था।

डा ओ पी चौधरी
समन्वयक,अवध परिषद उत्तर प्रदेश;
संरक्षक, अवधी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित