दुनिया के लिए आख़िरत बर्बाद न करें : अकबर अली वाएज

1 min read

दुनिया के लिए आख़िरत बर्बाद न करें : अकबर अली वाएज


अंबेडकरनगर। बड़ा इमामबाड़ा मीरानपुर में मरहूम जाफर हुसैन इत्यादि के इसाले सवाब की मजलिस सम्पन्न हुई। इम्तियाज हुसैन द्वारा आयोजित मजलिस कार्यक्रम को पेशइमाम जुमा व जमाअत मौलाना अकबर अली जलालपुरी ने संबोधित किया।
मौलाना ने धाराप्रवाह बयान करते हुये कहा दुनिया मोमिन के लिये नर्क के समान है। उन्होंने बल देते हुये कहा सांसारिक मोहमाया में न फंसे, क्योंकि यह इम्तेहान और आजमाइश की जगह है। लिहाज़ा आख़िरत को दुनिया पर तरजीह देना श्रेयस्कर होगा। उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा आसमानी किताब कुरान को खूब समझ कर तसल्ली से पढ़ें। हालांकि इसे समझना हर किसी के बूते की बात नहीं है। कुरान जहां दर्से इंकेलाब है तो वहीं करबला हक का सीधा रास्ता है। अजादारों को इंगित करते हुए मौलाना अकबर अली ने कहा छोटे-छोटे मतभेद को भुलाकर समाज के नवनिर्माण में अग्रणी भूमिका निभाएं। राष्ट्र सृदृढ़ होगा तो नागरिकों की स्थिति भी निश्चित रूप से मजबूत होगी। कुरान मजीद के हवाले से कहा मुल्क से वफादारी ईमान का हिस्सा है। मीसम अली एवं सहयोगियों ने सोजखानी किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित