आकण्ठ भ्रष्टाचार में डूबी पंचायतीराज विभाग द्वारा खुलेआम उड़ायी जा रही है शासनादेश की धज्जियां ….

1 min read

आकण्ठ भ्रष्टाचार में डूबी पंचायतीराज विभाग द्वारा खुलेआम उड़ायी जा रही है शासनादेश की धज्जियां ….

शासनादेश के इतर होम ब्लॉक में ही दिये जा रहें हैंं ए डी ओ पंचायत का प्रभार ….

विजय चौधरी / सह संपादक

अम्बेडकरनगर। ग्रामीण आंचल के समग्र विकास की जिम्मेदारी निभा रही पंचायतीराज विभाग खुद आकंठ भ्रष्टाचार में इस कदर लिप्त हो चली है कि भ्रष्टाचार ही इस विभाग का शिष्टाचार बन चुका है ।
विदित हो कि अभी गत वर्ष पंचायतीराज विभाग के प्रशासनिक मद में हुए व्यापक घोटाले से उबर भी नहीं पायी । कि आज भी विभाग हर दिन नित नये भ्रष्ट कारनामों को जन्म दे कर लगातार सुर्खियों में बनी हुई है । प्रशासनिक मद के प्रदेश व्यापी घोटाले ने प्रदेश के तीन दर्जन से अधिक जनपदों को अपने चपेट में ले लिया । जिसमें अम्बेडकर नगर भी अछूता नहीं रहा । इस प्रकरण में प्रशासन आज भी लीपापोती में जुटी हुई है ।विभाग आज भी दागियों को बचाने का निरन्तर प्रयास करती नजर आ रही है ।
इसी क्रम में जबकि शासनादेश के मुताबिक ए डी ओ पंचायत का प्रभार उक्त विकासखण्ड के मूल निवासी को नहीं मिलना चाहिए । फिर भी मिली जानकारी के अनुसार जनपद जंहगीर गंज , टाण्डा व कटेहरी के विकासखंडों में प्रभारी ए डी ओ होम ब्लॉक सचिव के कंधे पर देकर शासनादेश की खुलेआम धज्जियां उड़ायी जा रही है । इस प्रसंग पर प्रभारी जिला पंचायत राज अधिकारी से सम्पर्क करने पर वे समुचित उत्तर नहीं दे सके । बचाव की मुद्रा में उन्होंने बताया कि यदि प्रकरण विवादित न हो तो प्रभारी के तौर पर होम ब्लॉक के ए डी ओ पंचायत रखे जा सकतें हैंं । पर शासनादेश की जानकारी चाही तो खमोश हो गये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित