रामनगर क्षेत्र पंचायत प्रमुख पद पर कब्जे के लिए बेकरार है भाजपा

1 min read

रामनगर क्षेत्र पंचायत प्रमुख पद पर कब्जे के लिए बेकरार है भाजपा

रामनगर विकासखंड के सृजन से लेकर अब तक भाजपा को नहीं मिल पाई किसी भी प्रमुख पद के चुनाव में सफलता

30 वर्ष तक कांग्रेस का रहा रामनगर ब्लाक प्रमुख पद पर कब्जा सपा एवं बसपा इन्हें भी बनाया था अपना क्षेत्र पंचायत प्रमुख

आलापुर अंबेडकरनगर। रामनगर विकासखंड मे विकासखंड के सृजन से लेकर अब तक भगवा खेमे को प्रमुख पद पर सफलता नहीं मिल पाई है । भारतीय जनता पार्टी ने कई चुनाव में अपने उम्मीदवार भी नहीं उतारे थे । इस बार भारतीय जनता पार्टी रामनगर क्षेत्र पंचायत प्रमुख पद अपने कब्जे में करने के लिए बेकरार है । भारतीय जनता पार्टी की बेकरारी आस पूरी हो पाएगी । यह तो आने वाला समय ही बताएगा लेकिन जोड़-तोड़ के जरिए भाजपा इस बार कब्जे की कोशिश में लगी हुई है । वही विपक्षी समाजवादी पार्टी पूरे दमखम के साथ चुनावी मैदान में उतरने के मूड में है । रामनगर विकासखंड के सृजन के उपरांत पूर्व मंत्री स्वर्गीय जयराम वर्मा के काफी करीबी रहे राम सहाय गुप्ता ने रामनगर क्षेत्र पंचायत प्रमुख पद पर कब्जा जमाया । राम सहाय गुप्ता लगातार चार बार क्षेत्र पंचायत प्रमुख निर्वाचित हुए उसके बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व सांसद रामप्यारे सुमन एवं पूर्व सांसद निर्मल खत्री के बेहद करीबी रहे कांग्रेस नेता कीर्ति प्रकाश वर्मा रामनगर के क्षेत्र पंचायत प्रमुख निर्वाचित हुए । कीर्ति प्रकाश वर्मा दो बार लगातार क्षेत्र पंचायत प्रमुख पद पर आसीन रहे बाद में रामसकल यादव रामनगर के ब्लाक प्रमुख निर्वाचित हुए रामसकल यादव के बाद हीरालाल यादव ने रामनगर ब्लॉक प्रमुख की कुर्सी पर कब्जा जमाया हीरालाल यादव के बाद इंद्रावती यादव मगर की क्षेत्र पंचायत प्रमुख निर्वाचित हुए वर्ष 2011 में बसपा नेता प्रमोद दत्त रामनगर पर निर्विरोध ब्लाक प्रमुख निर्वाचित हुए पिछले चुनाव में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता बलीराम गौतम की पत्नी संगीता देवी ने रामनगर रामनगर ब्लाक प्रमुख पद की कुर्सी पर रिकॉर्ड मतों से कब्जा जमाया । संगीता देवी को एक सौ मत हासिल हुए जबकि बसपा की इंद्रावती देवी को महज 13 मत ही मिल पाए इस बार रामनगर ब्लाक प्रमुख पद अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित है । लिहाजा सत्ताधारी दल भाजपा भी प्रमुख पद पर कब्जे के लिए बेकरार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित