अंधविश्वास तथा मानव तस्करी के खिलाफ लड़े जंग

1 min read

अंधविश्वास तथा मानव तस्करी के खिलाफ लड़े जंग


अम्बेडकरनगर। ग्राम सभा अंधविश्वास के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए बुलाई जा सकती है। मुखिया अथवा ग्राम सभा की अध्यक्षता करने वाला व्यक्ति पंचायत में अंधविश्वास के मामलों पर गंभीरता से चर्चा करने के लिए आम जनों को बुलाएं। अंधविश्वास की पीड़िता अधिकतर महिलाएं होती हैं। इसलिए यह जरूरी है कि महिलाएं इसमें अधिकाधिक भाग लें और अंधविश्वास को रोकने के उपाय बताएं। ग्राम सभा में विभिन्न सामाजिक कुरीतियों को सत्रों में बांटकर चर्चा कर सकते हैं। इन सत्रों में मानव तस्करी के मामलों पर भी चर्चा करें। महिला तस्करी के मामलों पर मुख्य रुप से ध्यान दें प्रखंड विकास पदाधिकारी पुलिस पदाधिकारी अथवा महिला आयोग की सबसे निचले स्तर के पदाधिकारी सदस्य को ग्राम सभा में बुलाया जा सकता है । इसके अलावा क्षेत्र में काम कर रहे स्वयंसेवी संगठनों के पदाधिकारियों को चर्चा के लिए बुलाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित