21 माह से जीवन मौत के बीच संघर्ष कर रहे विद्युत उपकेंद्र के संविदा कर्मचारी की सुधि लेने वाला कोई नहीं 

1 min read

21 माह से जीवन मौत के बीच संघर्ष कर रहे विद्युत उपकेंद्र के संविदा कर्मचारी की सुधि लेने वाला कोई नहीं 

आलापुर। सिस्टम की बदहाली से बीते 21 माह से जीवन मौत के बीच संघर्ष कर रहे विद्युत उपकेंद्र के संविदा कर्मचारी की सुधि लेने वाला कोई नहीं है। क्षेत्र में जनसंपर्क के दौरान समाजवादी लोहिया वाहिनी के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बेहद करीबी माने जाने वाले दिनेश यादव उर्फ देवा ने पीड़ित परिवार से मिलकर हाल जाना और मदद का भरोसा दिलाया है।
बताया जाता है कि स्‍थानीय तहसील क्षेत्र के हथिनाराज गांव निवासी रामनगर विद्युत उपकेंद्र में संविदा कर्मचारी पद पर कार्यरत अनिल पुत्र हरिहर तिवारी बीते वर्ष 2019 में 7 अगस्त को खतमीपुर गांव में विद्युत पोल पर चढ़कर लाइट सही कर रहा था इसी दौरान एक कर्मचारी की लापरवाही से वह करंट की चपेट में आ गया और जमीन पर गिरने से उसके कमर की हड्डी टूट गई।

तत समय विद्युत विभाग के कर्मचारियों ने मदद का भरोसा दिलाया था लेकिन समय बीतने के साथ ही कोई मदद के लिए आगे नहीं आया। पीड़ित कर्मचारी बीते 21 माह से जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रहा है लेकिन उसकी सुधि लेने वाला कोई नहीं है। इसी बीच क्षेत्र में जनसंपर्क के दौरान समाजवादी लोहिया वाहिनी के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष दिनेश यादव देवा ने पीड़ित परिवार का हाल जाना तथा सहयोग का भरोसा दिलाया है। जिस पर पीड़ित परिवार के मदद की उम्मीद जगी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित