गेहूं क्रय केंद्रों पर शासन के मंशा अनुसार सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होने चाहिए : डी एम

1 min read

गेहूं क्रय केंद्रों पर शासन के मंशा अनुसार सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होने चाहिए : डी एम

अंबेडकर नगर 3 अप्रैल 2021। जिलाधिकारी सैमुअल पॉल एन द्वारा रवि विपणन वर्ष 2021 मैं मूल्य समर्थन योजना अंतर्गत किसानों को उचित मूल्य दिलाने एवं गेहूं की खरीदारी नियमित किए जाने के दृष्टिगत सीझोली मंडी अकबरपुर पहुंच कर वहां की व्यवस्थाओं से रूबरू हुए l इस दौरान मौके पर जिला खाद्य विपणन अधिकारी राजेश कुमार, खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा संचालित केंद्र के प्रभारी अवधेश वर्मा, मंडी समिति द्वारा संचालित केंद्र प्रभारी भूपेंद्र यत्री सहित संबंधित कर्मचारी मौके पर उपस्थित पाए गए l
अवगत कराना है कि मंडी समिति में खाद एवं रसद विभाग के कुल 7 केंद्र, एवं मंडी समिति का एक केंद्र संचालित किया गया है l


रवि विपणन वर्ष 2021 में शासन द्वारा गेहूं का एमएसपी रेट 1975 रुपए निर्धारित की गई है l जनपद में संचालित समस्त क्रय केंद्र प्रातः 9:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक खोले जाने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया l निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि शासन द्वारा जारी क्रय नीति के अनुसार गेहूं की खरीद क्रय केंद्रों पर ऑनलाइन की जाएगी l इसके साथ ही साथ उन्होंने मौके पर उपस्थित जिला खाद एवं विपणन अधिकारी को निर्देश दिया कि क्रय केंद्रों पर टोकन जारी रजिस्टर, स्टाक रजिस्टर, ऑनलाइन पंजिका रजिस्टर , बोरा स्टाक रजिस्टर भुगतान पंजिका रजिस्टर ,क्रय पंजिका रजिस्टर एवं अन्य समस्त इस प्रकार के रजिस्टर उपलब्ध होने अत्यंत आवश्यक होगा l साथ ही साथ उन्होंने यह भी निर्देश देते हुए कहा कि समस्त क्रय केंद्रों पर समर्थन मूल्य, गुणवत्ता के मानक, विपणन अधिकारी का नंबर ,केंद्र प्रभारी का नंबर एवं अन्य समस्त डिटेल वॉल पेंटिंग के माध्यम से दीवारों पर लिखे होने चाहिए l जिससे कि किसानों को किसी प्रकार की कोई समस्या ना उत्पन्न होने पाय यदि ऐसी कोई समस्या उत्पन्न होती है तो उसका तत्काल निराकरण कराना सुनिश्चित करेंगे केंद्र प्रभारी l मंडी परिसर में जिलाधिकारी द्वारा क्रय केंद्रों के सभी रजिस्टर ,ऑनलाइन करने की प्रक्रिया आदि का जायजा लिया गया l
यहां सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त पाई गईl इस दौरान मौके पर उपस्थित जिला खाद्य विपणन अधिकारी को उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि सभी केंद्रों पर किसानों के बैठने एवं शुद्ध पेयजल की बंदोबस्त अवश्य होनी चाहिए l
उन्होंने कहा कि शासन के मंशा अनुसार सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होने चाहिए किसी भी किसान को कोई भी दिक्कत का सामना ना करना पड़े यदि शिकायत प्राप्त होती है तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी l

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित