गेहूंँ की तैयार फसल का रखें बिशेषकर ध्यान : प्रो. रवि प्रकाश

1 min read

गेहूंँ की तैयार फसल का रखें बिशेषकर ध्यान : प्रो. रवि प्रकाश

लखनऊ। खेतों में गेहूं की फसल पक कर खड़ी है ,कही -कही कटाई भी प्रारम्भ है ,आगजनी न हो , इस समय विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है । पैदल, मोटर साईकिल, कार जीप, ट्रेक्टर या अन्य साधन से जा रहे हो , तो बीड़ी या सिगरेट रास्ते मे कतई नहीं पिए और नहीं किसी को पीने दे। जरा सी लापरवाही किसी की साल भर की कमाई बरबाद कर सकती है। आचार्य नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौधोगिक विश्व विधालय कुमारगंज अयोध्या द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केंद्र सोहाँव बलिया के अध्यक्ष प्रो. रवि प्रकाश मौर्य ने बताया कि कभी कभी ईधन चालित वाहनों मे खराबी के कारण उसके धुए के साथ चिनगारियाँ भी निकलती है, उसे ठीक कराने के बाद ही सफर करें। जिस खेत खलिहान के ऊपर से बिजली के तार गुजर रहा हो तो उसकी भी निगरानी रखने की आवश्यकता है। बिजली पोल के पास से कभी कभी हवा चलने पर तारों के सटने से चिनगारियाँ निकलती है, उससे बचने की आवश्यकता है । विधुत विभाग को फोन कर ठीक करा लें। आग से बचने के लिये मडा़ई स्थल का चुनाव , खलिहान रिहायसी क्षेत्र, रेलवे लाईन, सड़क, विद्युत तार के खम्भों से दूर रखना चाहिये। कटाई मशीन से करानी हो तो ऐसे मशीन से कराये जिससे अनाज के साथ साथ भूसा भी मिल सके। विद्युत से आग लगने पर सुखी मिट्टी, बालू डाले पानी का प्रयोग बिधुत रहने पर कदापि न करें ।

बिधुत ,अग्निशामक ,सिंचाई ,नलकूप, नहर से संबंधित विभागों का मोबाइल नंबर जरूर रखें जिससे आवश्यकता पड़ने पर उनकी सहायता ली जा सके। कोरोना से बचाव हेतु सुझाव के निर्देशों का पालन किया जाए । व्यक्तिगत सफाई, मास्क लगायें व मानक दूरी 2 गज बनाए रखे ।जिससे कोरोना के प्रसार को रोका जा सके आप और आपका परिवार सुरक्षित रहें स्वस्थ्य रहे । फसलों की कटाई , मड़ाई में साफ – सफाई और खास दूरी के साथ कार्य सम्पन्न करें ।
जो भी मशीनरी प्रयोग हो हँसिया आदि की सफाई ठीक से हो । किराए की मशीनरी की सफाई ठीक से आवश्यक हैं । आप अपने हाथ साबुन से ठीक से धोए कोई चीज खाने से पहले जरूर ठीक से हाथ साबुन से धोकर ही कुछ खाए। गाँव मे लोग आपस मे तम्बाकू एक हाथ से दूसरे हाथ लेकर खाते हैं बिल्कुल न खाए । धूम्रपान में बीड़ी व सिगरेट पीते हैं जिसमें एक बीड़ी में कभी-2 एक साथ कई लोग भी पीते हैं धूम्रपान ही न करें ।सुपारी , पान खाने में एक साथ एक हाथ से कई लोग सुपारी लौंग लेकर खाते हैं ये बिल्कुल ठीक नही है । गाँव मे कुछ लोग गांजा भी एक चिलम में कई लोग आपस मे पीते हैं ऐसा विल्कुल न करे ।धूम्रपान विल्कुल न करे ये कोरोना बचाव के विपरीत हैं । महिलाएं गाँवों मे शादी एवं अन्य कार्यक्रमो़ मे एक साथ ढोलक मजीरा से गायन घरों के आंगन में पास-2 बैठकर करती हैं इसको भी बचाव तक रोकें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित