जनपद में शिक्षा की अलख जगाने वालों में अग्रणी थे राम नरायन वर्मा : अनिल वर्मा

1 min read

जनपद में शिक्षा की अलख जगाने वालों में अग्रणी थे राम नरायन वर्मा : अनिल वर्मा

डॉ ओ पी चौधरी……

अंबेडकरनगर। सरदार पटेल स्मारक इंटर कॉलेज लारपुर, अंबेडकरनगर के संस्थापक एवम् प्रबंधक रहे राम नरायन वर्मा की 9 वीं पुण्य तिथि पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए जलालपुर निवासी विश्वनाथ सनातन धर्म इंटर कालेज वाराणसी के प्रधानाचार्य अनिल वर्मा ने कहा कि जनपद अम्बेडकरनगर में शिक्षा की ज्योति जागृति करने वालों में स्व.राम नरायन वर्मा की अग्रणी भूमिका थी। मृदुभाषी, कर्मठ, ईमानदार व्यक्तित्व के धनी जलालपुर ब्लॉक के स्थापना काल से लंबे समय तक ब्लॉक प्रमुख रहे वर्मा जी ने संस्थापक के रूप में शास्त्री औद्योगिक इंटर कालेज कासिमपुर, एवम् महाराजा छत्रपति शिवाजी हाई स्कूल मैनुद्दीनपुर, अ न की स्थापना किया और दीर्घ काल तक कासिमपुर के प्रबंधक भी रहे। साथ ही सरदार पटेल स्मारक डिग्री कॉलेज के संस्थापक अध्यक्ष रहे।

बाबा बरुआ दास इंटर एवम् पी जी कॉलेज परुइया आश्रम, एच टी इंटर एवम् डिग्री कॉलेज टांडा, ,राम अवध जनता इंटर कॉलेज बरियावन,जनता पूर्व माध्यमिक विद्यालय टांडा, अ न सहित अनेक अन्य शिक्षण संस्थाओं में संस्थापक सदस्य के रूप में स्थापना काल से ही अपना योगदान आजीवन करते रहे। अनिल वर्मा ने यह भी बताया कि राजनीति शुचिता और ईमानदारी के प्रतीक थे। आजीवन सिद्धांतवादी रहे और कभी भी मूल्यों से समझौता नहीं किया। इस अवसर पर अजय सिंह, प्रवक्ता, राजनीति शास्त्र, सनातन धर्म इंटर कॉलेज वाराणसी ने भी स्व.वर्मा के शैक्षणिक संस्थाओं की स्थापना में उनकी भूमिका का उल्लेख किया। स्व.राम नरायन वर्मा के सुपुत्र डा ओ पी चौधरी, एसोसिएट प्रोफेसर मनोविज्ञान विभाग श्री अग्रसेन कन्या पी जी कॉलेज वाराणसी एवम् राज्यपाल नामित कार्य परिषद सदस्य वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर ने भी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित कर उनके व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला। विद्यालय के प्रधानाचार्य राम राज वर्मा ने स्व.वर्मा के बारे में अपने अनेक संस्मरण सुनाए। इस अवसर पर पवन चौधरी,जनाब हाजी अब्दुल समद, हिदायतुल्लाह, ललित वर्मा,आशुतोष वर्मा, राम उजागिर यादव,योगेंद्र सिंह आदि काफी संख्या में उपस्थित होकर लोगों ने स्व.वर्मा की मूर्ति पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित