आधुनिक खेती के तरफ युवा किसान ज्ञान चन्द के बढ़ते कदम :  प्रो. रवि प्रकाश

1 min read

आधुनिक खेती के तरफ युवा किसान ज्ञान चन्द के बढ़ते कदम :  प्रो. रवि प्रकाश

लखनऊ। बलिया जिला मुख्यालय से 64 किमी. एवं सीयर ब्लाक से 4 किमी. उत्तर-पश्चिम दिशा मे स्थित पड़री गाँव है। इस गाँव के 35 बर्षीय युवा कृषक है, ज्ञान चन्द शर्मा। जिनकी शिक्षा स्नातक है। आचार्य नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केन्द्र सोहाँव बलिया के अध्यक्ष प्रोफेसर रवि प्रकाश मौर्य ने इस युवा कृषक के प्रक्षेत्र का भ्रमण कर उनसे चर्चा की। प्रो. मौर्य ने बताया कि ज्ञान चन्द के अनुसार उनकी पुस्तैनी जमीन मात्र 2 एकड़ है। तथा 13 एकड़ जमीन रू15000/ प्रति एकड़ की दर से किराये पर लेकर खेती करते है।जिसे आमभाषा मे पोत कहते है। उनके पास आधुनिक कृषि यंत्र जैसे – रोटा वेटर, डिस्क हैरो,

लेजर लेवलर, गाजर बोने एवं खोदने का यंत्र , गाजर की सफाई व पानी से धुलाई करने का यंत्र , स्प्रिन्कलर सेट, टपक सिंचाई यंत्र आदि की सुविधा है। खरीफ में बासमती धान. बैगन , टमाटर, एवं खीरा की खेती किये थे। वर्तमान रबी मे सरसों, गेहूं, बैगन आधा एकड़ शिमला मिर्च 1/2 एकड़, फ्रेन्चबीन 1/2 एकड,एवं टमाटर 1/2 एकड़ में फसल लहलहा रही है। 10 एकड़ क्षेत्रफल मे लाल गाजर की फसल लगी थी ,जिसकी खोदाई कर बिक्रय किया जा चुका है .अभी आधा एकड़ क्षेत्रफल मे पीला गाजर तैयार होने की स्थिति में है। गाजर एवं अन्य फसलोंं से खाली हुए खेतों मे जायद हेतु खीरा आधा एकड़ तथा तरबूज 10 एकड़ मे लगा चुके है। जैविक विधि से भी कीटों का प्रबंधन करते है। ज्ञान चन्द ने बताया कि कम से कम 50 एकड़ में इस तरह की खेती करने का लक्ष्य है तथा अपने बेटे को स्नातक कृषि करा कर नौकरी न कराकर खेती के कार्य मे ही लगाना है। ऐसी सोच रखने वालों मे ये पहले किसान मिले जो अपने बेटे को खेती किसानी मे ही परागंत कराना चाहते है। इनके प्रक्षेत्र को देखने के लिये प्रति दिन बाहर से भी किसान आते रहते है। अन्य युवाओं को ऐसे किसान से प्रेरणा लेनी चाहिए। ज्ञान चन्द्र शर्मा का मोबाइल नं. 97210 12998

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित