मानदेय को लेकर वित्तविहीन शिक्षकों ने जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन 

1 min read

मानदेय को लेकर वित्तविहीन शिक्षकों ने जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन 

अम्बेडकरनगर (दिनेश वर्मा ) दीर्घ काल से मानदेय की बाँट जोह रहे वित्तविहीन शिक्षकों के एक दल ने एक बार फिर सूबे के मुख्यमन्त्री योगी आदित्य नाथ से मानदेय दिये जाने का लिखित सन्देश जिलाधिकारी सैमुअल पाँल एन को ज्ञापन के माध्यम से दिया है। माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष आनन्द हीराराम पटेल के नेतृत्व में वित्तविहीन शिक्षकों मोइनुद्दीन

सिद्दीकी,घनश्याम शर्मा ,दिनेश यादव , कमलेश पटेल ,ज्ञानेद्र नाथ मिश्रा ,आनन्द पाल विश्वकर्मा आदि निराश शिक्षकों ने एक बार फिर अपनी मानदेय की फरियाद को जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमन्त्री को अवगत कराने का काम किये है। जिसमें शिक्षकों ने उल्लेख किया है कि प्रदेश मेँ सबसे ज्यादा काम हम लोग करके देते है इसलिए हम लोगों को समान कार्य के बदले में समान बेतन दिया जाय अथवा 7क(क) को 7(4) में परिवर्तित किया जाय। और वित्तविहीन विद्यालयों को कम्पनियों अथवा निजी हाथों में न सौंपा जाय। उन्होंने यह भी उल्लेख किया है कि वित्तविहीन शिक्षकों की संख्या पूरे प्रदेश में कम नहीं है। वेहतरीन शिक्षा के लिए सबसे बडा योगदान वित्तविहीन शिक्षकों का रहता है फिर भी सबसे कम बेतन पर सबसे अधिक परिश्रम उक्त शिक्षकों द्वारा किया जाता है जो एक सौतेला व्यवहार के समान है। शिक्षा जगत में अपनी जान की बाजी लाने वाले वित्तविहीन शिक्षकों की दशा दयनीय होती जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित