संशोधन के नाम पर कब तक छला जाता रहेगा किसान , पी एम किसान समाधान में आये पाँच सैकड़ा आवेदन ….

1 min read

संशोधन के नाम पर कब तक छला जाता रहेगा किसान …

पी एम किसान समाधान में आये पाँच सैकड़ा आवेदन ….

राज्य सरकार से लम्बित चल रहे किसानों की फिर लगी लम्बी कतार …

अपात्रों को मिल रहे किसान निधि पर चुप रहे हाकिम …

विजय चौधरी /सह संपादक

अम्बेडकरनगर। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से वंचित हो रहे किसानों की अड़चनों को दूर करने हेतु प्रदेश के सभी राजकीय कृषि विभाग द्वारा तीन दिवसीय पी एम किसान समाधान दिवस का आयोजन किया गया । इसी क्रम में जनपद के कटेहरी विकासखण्ड मुख्यालय पर भी आयोजित हुआ । जिसमें पीड़ित किसानों की भारी भीड़ देखने को मिली ।
केन्द्र प्रभारी डॉ .रवि शंकर वर्मा से मिली जानकारी के अनुसार तीन दिन चले इस आयोजन में आधार नम्बर संशोधन के लिए 64 आवेदन प्राप्त हुए सभी को निस्तारित कर दिया गया । आधार नाम संशोधन के लिए 47 आवेदन मिले जिसमें से 43 का निस्तारण कर लिया गया है , 4 लम्बित हैंं । सबसे जटिल समस्या उन किसानों को झेलनी पड़ रही है , जिन्होने सारी औपचारिकताएं पूरी की हुई है फिर भी वर्षों से राज्य स्तर से अवरुद्ध कर दिये जाने से किसान सम्मान निधि से वंचित चल रहें हैंं । ऐसे आवेदन इस बार भी इस आयोजन में 254 पाये गये जिसमें से 16 आवेदन का निस्तारण हो सका । शेष 238 आवेदन की लिस्ट बनाकर शासन को भेजी जायेगी ।
गौरतलब हो कि शासन के अस्पष्ट मंशा और खाऊ कमाऊ नीति के कारण ही भारी संख्या में अपात्र किसान लगातार इस योजना का लाभ उठा रहें हैंं । किसानों द्वारा कुछ जुगाड़ू लोगों को डबल किश्त का लाभ मिलने का भी आरोप लगाया । आखिर संशोधन के नाम पर कबतक छला जाता रहेगा किसान ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित