अभियोग्यता एवं अभिरुचि के अनुरूप करें अध्ययन : डॉ ओ. पी. चौधरी

1 min read

अभियोग्यता एवं अभिरुचि के अनुरूप करें अध्ययन : डॉ ओ. पी. चौधरी

लारपुर अम्बेकरनगर। सरदार पटेल स्मारक इंटर कालेज लारपुर में हाई स्कूल के विद्यार्थियों के लिए आगे की शिक्षा एवं रोजगार के लिए निर्देशन एवं परामर्श की भूमिका विषयक व्याख्यान देते हुए मनोविज्ञानशाला, उत्तर प्रदेश प्रयागराज से प्रशिक्षण प्राप्त वरीय मनोवैज्ञानिक एवं विभागाध्यक्ष,मनोविज्ञान विभाग, श्री अग्रसेन कन्या स्वायत्तशासी पी जी कॉलेज वाराणसी डॉ ओ पी चौधरी ने कहा कि कक्षा 10 के विद्यार्थियों के लिए शैक्षिक एवं व्यावसायिक निर्देश की बहुत आवश्यकता है।

क्योंकि इसके पश्चात ही आपको विभिन्न वर्गों का चयन जैसे विज्ञान, वाणिज्य,कला,कृषि,ललित कला आदि का चयन कर लेना है, जिससे आपको आगे की शिक्षा व व्यवसायिक पाठ्यक्रम यथा मेडिकल, इंजीनियरिंग,विधि,अध्यापन, प्रशासन, वैज्ञानिक,किसी विशेष प्रोफेशन आदि में जाने का मार्ग प्रशस्त होगा। निर्देशन के माध्यम से निर्देशन व परामर्शन मनोवैज्ञानिक आपकी अभियोग्यता, अभिक्षमता,अभिरुचि,व्यक्तित्व व शैक्षिक उपलब्धि के अनुरूप और मनोवैज्ञानिक परीक्षणों के आधार पर आपको उचित शिक्षा हेतु निर्देशन प्रदान करता है। विद्यालय के प्रधानाचार्य रामराज वर्मा ने कहा कि फरवरी के अंतिम सप्ताह में विद्यार्थियों का मनोवैज्ञानिक परीक्षण करवाया जाएगा ताकि उनकी रुचि के अनुसार वर्ग का चयन हो सके। विषय प्रवर्तन व संचालन श्री उमेश चौधरी एवं धन्यवाद ज्ञापन उप प्रधानाचार्य संदीप वर्मा ने किया।

डॉ ओ पी चौधरी
एसोसिएट प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष, मनोविज्ञान
श्री अग्रसेन कन्या पी जी कॉलेज वाराणसी
मो: 9415694678

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित