किसान कल्याण मिशन के अन्तर्गत पहला किसान मेला एवं गोष्ठी

1 min read

किसान कल्याण मिशन के अन्तर्गत पहला किसान मेला एवं गोष्ठी

लखनऊ। कृषि विभाग बलिया के तत्वधान मे ब्लॉक मुरलीछपरा परिसर मे किसान कल्याण मिशन के अन्तर्गत किसान मेला एवं कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। जिसमे विभिन्न विभागों के स्टाल लगाये गये ।इसका उदघाटन् ब्लॉक के पूर्व प्रमुख कन्हैया सिंह ने दीप प्रज्वलित कर किया। श्री सि्ह ने जैविक खेती व प्राकृतिक खेती पर विशेष बल दिया।इस अवसर पर आचार्य नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केन्द्र सोहाँव बलिया के अध्यक्ष प्रोफेसर रवि प्रकाश मौर्य ने समसामाजिक जानकारी देते हुए बताया कि सरसों में माहूँ कीट से बचाव हेतु एजाडिरेक्टीन (नीम आयल) एक लीटर को 200 लीटर पानी मे घोल कर प्रति एकड़ मे छिडकाव करे। अरहर ,चना में फूल आने की अवस्था से ही फली बेधक कीट से सु्रक्षा हेतु प्रति एकड़ मे 5-5 फेरोमोन ट्रेप का प्रयोग करे।

आम मे बौर खिलने से पहले सुरक्षात्मक छिड़काव वैवेरिया बैसियाना 5 ग्राम या नीमतेल 2 मिली को प्रतिलीटर पानी मे घोल कर छिड़काव करें। मधुमक्खी पालन व मशरूम उत्पादन पर भी बिस्तार से चर्चा की। रमेश ओक्षा, दिलीप शर्मा ने जैविक खेती पर प्रकाश डाला।लघु सिचाई विभाग के अवर अभियंता राजू कुमार ने वोरिग हेतु मिलने वाली सुविधाओं को बताया। सिचाई विभाग के सहायक अभियंता गुलाब चन्द ने सिचाई के बारे मे बताया। सुशील यादव सहायक विकास अधिकारी कृषि ने कृषि की योजनाओं पर प्रकाश डाला। बाल विकास अधिकारी, श्रीमती इन्दु यादव ने महिलाओं एवं बच्चों के स्वास्थ्य पर बताया ।अंत मे कार्यक्रम संंयोजक ओमकार सिंह ने धन्यवाद दिया।

कार्यक्रम मे कृषि विभाग के राजेन्द्र प्रसाद, कपिल कुमार, शेष मणि चौरसिया एव भगवान वर्मा सहित सैकड़ों किसानों, कृषक महिलाओं ने भाग लिया। कार्यक्रम के बाद चना ,आलू, लहसुन के प्रक्षेत्र का भ्रमण कर उसमे आयी समस्या का समाधान बताया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित