राजकुमारी हत्याकांड का पुलिस ने 48 घंटे के अंदर किया राज फास, आशनाई में हुई थी विवाहिता की हत्या

1 min read

अवधी खबर संवाददाता– पूनम तिवारी अंबेडकर नगर


राजकुमारी हत्याकांड का पुलिस ने 48 घंटे के अंदर किया राज फास, आशनाई में हुई थी विवाहिता की हत्या

अंबेडकरनगर। बीते 9 मार्च को अंबेडकर नगर जनपद के महरुआ थाना क्षेत्र में गांव दुर्गुपुर जमालपुर निवासी राम भवन पुत्र श्रीराम की 25 वर्षीय विवाहिता पुत्री व 3 मास के मासूम की मां राजकुमारी पुत्री राम भवन की हत्या कर दी गई थी। हत्या के दिन से ही पुलिस महकमे के लिए इस घटना का अतिशीघ्र राज पास करने के लिए समुचित बंदोबस्त कर लिया गया था। थानाध्यक्ष महरुआ शंभूनाथ में उसी दिन वहां मौजूद लोगों से वादा किया था कि बेहद कम समय में कातिल को जेल भेजूंगा। अंबेडकर नगर पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी के निर्देशन एवं अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र व क्षेत्राधिकारी भीटी वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में महरुआ पुलिस व जनपद की पुलिस ने इस घटना का राजफास करके सराहनीय कार्य किया है। आपको बताते चलें कि पुलिस अधीक्षक अंबेडकरनगर ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इस घटना को विस्तार पूर्वक बताया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि महरुआ थाना क्षेत्र के दुरगुपुर जमालपुर गांव के राम भवन पुत्र श्रीराम ने महरुआ पुलिस को सूचना दिया था कि मेरी लड़की राजकुमारी रात में अपनी मां को शौंच के लिए बता कर घर से निकली थी जब काफी देर तक नहीं आई तो हम लोग ढूंढने लगे तो सुबह उसकी लाश लाहूरी मौर्या के ट्यूबवेल की हौज में मिली।

जिसमें महरुआ थानाध्यक्ष द्वारा 28/2020 भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 201 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मृतका राजकुमारी का उसी के गांव के रहने वाले असगर अली पुत्र इमाम अली निवासी दुर्गुपुर जमालपुर का पिछले चार-पांच साल से अवैध संबंध था। दोनों की शादी हो जाने के बाद दोनों में प्रेम बरकरार रहा। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना वाले दिन असगर अली और राजकुमारी अपने घर से निकल कर चंडी प्रसाद के सरसों के खेत में पहुंच गए वहां पर उन दोनों के बीच बातचीत होने लगी। राजकुमारी ने असगर अली पर दबाव बनाया कि तुम मुझको अपने साथ ही लेकर रहो मैं तुम्हारे साथ ही रहूंगी और तुम्हारे ही घर चलूंगी।इस पर आरोपी असगर अली ने मना कर दिया उसने बताया कि मेरे दो बच्चे और बीवी है मैं तुम्हें लेकर नहीं चल सकता। इसी बात पर नोकझोंक होने लगी बात आगे बढ़ी तो असगर अली ने राजकुमारी के साड़ी के आंचल से ही कस कर उसकी हत्या कर दी ।और अपने इस कृत्य को छिपाने के लिए राजकुमारी की लाश कोघसीटते हुए लहूरीरी मौर्या के ट्यूबवेल के हौज में जिसमें पानी था डाल दिया।

और राजकुमारी का मोबाइल अपने साथ लेकर वहां से भाग गया आरोपी ने कबूल किया है कि घर जाते समय रास्ते में नंदलाल यादव का तालाब है उसी में उसने मृतका राजकुमारी का मोबाइल फेंक दिया। मृतका का मोबाइल बरामद हुआ है। पुलिस अधीक्षक अंबेडकरनगर ने गिरफ्तार आरोपी को पकड़ने में अच्छा कार्य करने वाली पुलिस टीम को प्रोत्साहित किया है। इस दौरान घटना का अतिशीघ्र राजफाश करने में थानाध्यक्ष महरुआ शंभूनाथ उपनिरीक्षक लल्लन यादव कांस्टेबल रवि कुमार सिंह कांस्टेबल अखिलेश कुमार यादव कांस्टेबल प्रदीप यादव उप निरीक्षक देवेंद्र पाल सिंह स्वाट टीम कांस्टेबल जितेंद्र गौड़ सर्विलांस सेल कांस्टेबल विपिन सिंह राठौर सर्विलांस सेल कांस्टेबल मोहम्मद जावेद स्वास्थ्य कांस्टेबल प्रदीप सिंह स्वाट टीम कांस्टेबल अनुज प्रताप सिंह स्वाट टीम ने काफी कड़ी मेहनत मशक्कत के बाद घटना का राजफाश किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित