सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय द्वारा गोद लिए ग्राम मे हुआ बाल दिवस कार्यक्रम का आयोजन

1 min read

कुमारगंज अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या के माननीय कुलपति डॉ बिजेंद्र सिंह के दिशा निर्देश पर, सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय के मानव विकास एवं परिवार अध्ययन विभाग द्वारा दिनांक 14 नवंबर 2022 को ग्राम जोरियम विकासखंड मिल्कीपुर अयोध्या के प्राथमिक विद्यालय में बाल दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया । आज़ादी की 75 वे महोत्सव के वर्ष को मानने हेतु बाल दिवस पर कक्षा 1 से पांच तक के विद्यार्थियों के लिए खेल, कविता पाठ तथा चित्रकला की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। महिला अध्ययन केंद्र के अंतर्गत, इस कार्यक्रम में बच्चों के अभिभावकों के लिए एक गोष्ठी का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम का संचालन सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय की स्नातक,चतुर्थ वर्ष की छात्रा कुमारी अवंतिका ने सभी अतिथियों का स्वागत कर किया तथा अन्य छात्राओं ने अभिभावकों को बच्चों के पालन पोषण तथा देखभाल के विषय में आवश्यक जानकारी प्रदान की। मानव विकास एवं परिवार अध्ययन विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो सुमन प्रसाद मौर्य ने बच्चों के स्वास्थ्य एवं पोषण से संबंधित जानकारी देते हुए कहा कि भारत मे बच्चो का मृत्यु दर कम करने की जरूरत है। जिसके के लिए बच्चों को निमोनिया, अतिसार (डाइरिया), गैर संक्रामक रोग जैसे को डेंगू, जुकाम, बुखार, टेटनस, आदि से बचाव एवं उपचार की आवश्यकता है। माता पिता को उनके खाने पीने, स्वच्छता एवं व्यव्हार पर ध्यान देना चाहिए। साथ ही अभिभावकों को बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा। सहायक अध्यापिका डॉ प्राची शुक्ला ने हमारे समाज में चल रहे बच्चों के शारीरिक तथा मानसिक शोषण के विषय में विस्तार से जानकारी दी तथा इस शोषण को रोकने में माता पिता, परिवार, तथा समाज की भूमिका के बारे में बताया। कार्यक्रम में उपस्थित सहायक अध्यापिका सरिता श्रीवास्तव ने सरकार द्वारा बच्चों के लिए चलाई जा रही स्वास्थ्य,शिक्षा तथा सुरक्षा से संबंधित सभी योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी उन्होंने बताया कि यह योजनाएं बच्चों के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। कार्यक्रम के अंत में महाविद्यालय की अधिष्ठाता डॉ नमिता जोशी ने अभिभावकों को संबोधित करते हुए कहा अभिभावकों को बच्चों में लिंग भेद नहीं करना चाहिए, टीकाकरण संबंधित माताओं को विशेष सुझाव दिया और बच्चों को कुत्ते बिल्लियों से रेबीज के खतरे से सुरक्षित रहने के निर्देश एवं उपाय बताएं। कार्यक्रम के अंत में प्रतियोगिता में विजेता सभी विद्यार्थियों को पुरस्कार वितरण किया गया और मिठाई वितरित की गई। बाल दिवस के सभी कार्यक्रमों को सफल बनाने में महाविद्यालय की शोध छात्राओं, प्राथमिक विद्यालय के प्रधान अध्यापक श्री रावत, शिक्षक गण एवं ग्राम प्रधान जय प्रकाश का भी सहयोग रहा । कार्यक्रम का धन्यवाद प्रस्ताव सरिता श्रीवास्तव ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *