‘जनसंख्या नियंत्रण हेतु शिक्षित होने के साथ जागरुक होना आवश्यक’ : प्रो० मिथिलेश सिंह

1 min read

वाराणसी। शासन द्वारा संचालित आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अन्तर्गत आयोजित कार्यक्रमों के क्रम में विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर श्री अग्रसेन कन्या पी०जी० कॉलेज, वाराणसी के समाजशास्त्र विभाग द्वारा ‘जनसंख्या विस्फोट व खाद्य सुरक्षा’ विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में बोलते हुए महाविद्यालय की प्राचार्य प्रो० मिथिलेश सिंह ने कहा कि जनसंख्या विस्फोट को रोकने के लिए हमें शिक्षित होने के साथ ही जागरुक रहना भी आवश्यक है। इस अवसर पर
समाजशास्त्र विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ० बृजेश पाण्डेय, प्राचीन इतिहास विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ० नन्दिनी पटेल, डॉ० सरला सिंह, अधिष्ठाता प्रशासन डॉ० ओ०पी० चौधरी ने जनसंख्या विस्फोट व खाद्य सुरक्षा’ विषय पर अपना व्याख्यान दिया।


कार्यक्रम के प्रारम्भ में समाजशास्त्र की विभागध्यक्ष डॉ० आभा सक्सेना ने प्राचार्य जी को पुष्पगुच्छ, माल्यार्पण एवं अंगवस्त्र प्रदान कर उनका सम्मान किया। कार्यक्रम का संचालन समाजशास्त्र विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ० बृजेश पाण्डेय तथा धन्यवाद ज्ञापन एसोसिएट प्रोफेसर डॉ० रमा पाण्डेय न किया। कार्यक्रम में छात्रा कल्याण अधिष्ठाा डॉ० सुमन मिश्रा, परीक्षा नियंत्रक डॉ० अर्चना सिंह, हिन्दी वरिष्ठ शिक्षिक डॉ० आरती सिंह सहित विभिन्न विषयों के प्रवक्ता व छात्राएँ उपस्थित रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *