श्रवण क्षेत्र का सप्तकोसी परिक्रमा आज

1 min read

श्रवण क्षेत्र का सप्तकोसी परिक्रमा आज

अम्बेडकरनगर (अवधी खबर)। जनपद के पौराणिक एवं सिद्धपीठ श्रवण क्षेत्र का सप्तकोसी परिक्रमा आज ब्रह्ममुहूर्त में स्नान ध्यान के उपरान्त शुरू हो गया। लोगों की मान्यता है कि इसी दिन भगवान विष्णु चार माह के योग निद्रा से जागते हैंं और पुनः सृष्टि संचालन करने के दायित्वों का निर्वहन करते हैंं । इसी दिन से वर्ष के सभी मांगलिक कार्यों का श्री गणेश होता है। इसी लिए इसे देवउठनी एकादशी भी कहा जाता है ।परम्परागत मड़हा बिसुई के संगम तट पर स्थित पौराणिक तीर्थ स्थल श्रवण क्षेत्र के पावन स्थल से कार्तिक के कृष्ण पक्ष की एकादशी के दिन शुरू होने वाला यह सप्तकोसी परिक्रमा अपनी श्रध्दा , आस्था व विश्वास के बलबूते कई दशकों से सफलतापूर्वक सम्पन्न हो रहा है। जबकि प्रशासन व शासन हमेशा से इसके प्रति उदासीन ही रहा । इस परिक्रमा पथ का मार्ग श्रवण क्षेत्र से शुरू होकर अन्नावा,शिव बाबा , पुरानी तहसील , शहज़ाद पुर चौक , राम जानकी मन्दिर , संगतिया नाका , दोस्त पुर चौराहा होते हुए कशेरुआ , पहितीपुर के दुर्गम रास्ते से हुए पुनः श्रवण क्षेत्र पहुंचकर समाप्त होगा । जबकि श्रद्धालुओं को श्रवण क्षेत्र से अन्नावा तक टूटीफूटी व पथरीली धूलभरी सड़क से होते हुए काफी दुश्वारियों के बीच से होकर गुजरना होगा। प्रशासन द्वारा इन श्रधालुओं की सुरक्षा भी होमगार्ड के कंधे पर देकर अपनी औपचारिकता पूरी कर दी जायेगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *