Big Success Before 15th August: 2 Bangladeshi Arrested With 11 Fake Passports, UP ATS Again Caught A Terrorist – 15 अगस्त से पहले बड़ी कामयाबी: 11 फर्जी पासपोर्ट के साथ 2 बांग्लादेशी गिरफ्तार, UP ATS ने फिर एक संदिग्ध आतंकी दबोचा

1 min read

15 अगस्त से पहले बड़ी कामयाबी: 11 फर्जी पासपोर्ट के साथ 2 बांग्लादेशी गिरफ्तार, UP ATS ने फिर एक संदिग्ध आतंकी दबोचा

एक घर से मोहम्मद मुस्तफा और हुसैन शेख को पकड़ा गया.

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस ने 15 अगस्त से ठीक पहले 2 बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से अलग-अलग पहचान के 11 बांग्लादेशी पासपोर्ट और 10 फर्जी रबर स्टैंप भी बरामद हुई हैं. गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों की पहचान 28 साल के मोहम्मद मुस्तफा और मोहम्मद हुसैन शेख के रूप में हुई है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, द्वारका जिले में 15 अगस्त से ठीक पहले चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था. इस दौरान दुकानदारों को मार्केट में कुछ भी संदिग्ध लगने पर पुलिस को जानकारी देने के लिए आगाह किया गया था.

यह भी पढ़ें

साथ ही, जिले में किराएदारों का वेरफिकेशन अभियान चलाया जा रहा था. इसी अभियान के तहत ASI हरिओम और कांस्टेबल महेश एक खुफिया जानकारी के तहत पालम एक्सटेंशन स्थित रामफल चौक पहुंचे, जहां एक घर से मोहम्मद मुस्तफा और हुसैन शेख को पकड़ा गया. दोनों के कमरे की तलाशी लेने पर वहां से 11 बांग्लादेशी पासपोर्ट जिनपर फ़ोटो तो इनकी लगी थी, लेकिन नाम और पते (सभी बांग्लादेश के) अलग-अलग थे. इसके अतिरिक्त बांग्लादेश के अलग-अलग मंत्रालय और सरकारी दफ्तरों की स्टॉम्प भी बरामद कीं गईं हैं. 

पुलिस की पूछताछ में इन्होंने बताया कि ये दोनों बांग्लादेश से हिंदुस्तान में इलाज कराने आ रहे बांग्लादेशी नागरिकों के लिए एजेंट के रूप में काम करते थे. लेकिन इतनी बड़ी संख्या में पासपोर्ट और स्टाम्प की बरामदगी शक पैदा करती है. लिहाजा, दोनों से पूछताछ की जा रही है. 

इधर, यूपी एटीएस ने 12 अगस्त को जैश-ए-मुहम्मद एवं अन्य आतंकवादी संगठनों से जुड़े आतंकी मुहम्मद नदीम को गिरफ्तार किया था. नदीम से की गई प्राथमिक पूछताछ के आधार पर हबीबुल इस्लाम उर्फ सैफुल्ला को गिरफ्तार किया गया. हबीबुल द्वारा यह स्वीकार किया गया कि वह नदीम को जानता था और दोनों एक ही आतंकी नेटवर्क जैश-ए-मुम्हम्मद  से जुड़े हुए थे. 

हबीबुल वर्चुअल आईडी बनाने में माहिर है और इसी ने नदीम सहित कई पाकिस्तानी और अफगानिस्तानी आतंकियों को लगभग 50 वर्चुअल आईडी बनाकर दी. हबीबुल सोशल मीडिया के माध्यमों जैसे- टेलीग्राम, वाट्सऐप व फेसबुक मेसेंजर आदि के जरिये पाकिस्तान व अफगानिस्तान में बैठे कई हैंडलर्स से जुड़ा है. उसको जैश-ए-मुहम्मद के पाकिस्तानी हैंडलर ने पाकिस्तान आकर जेहादी प्रशिक्षण लेने और फिर भारत में जेहाद करने के लिए कहा था. फिलहाल पुलिस ने उसके कब्जे से एक मोबाइल फोन, 1 सिम व  बटन द्वारा झटके से खुलने वाला चाकू बरामद किया है. आगे की जांच में जारी है. 

यह भी पढ़ें –
— पंजाब में “एक विधायक, एक पेंशन” योजना लागू, भगवंत मान ने कहा- व्यवस्था में आएगा बदलाव

— राज्यों से बोलीं निर्मला सीतारमण- ”कुछ भी मुफ्त में देने का वादा करने से पहले…”

VIDEO: रिसाइकिलिंग के जरिये पुराने टायरों को बैग्‍स, एसेसरीज और फुटवेयर में बदल रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित