Uttar Pradesh Government 500 Crore Approved For Sugarcane Farmers Of Cooperative Sugar Mills – उत्तर प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला, सहकारी चीनी मिलों के गन्ना किसानों के लिए 500 करोड़ स्वीकृत

1 min read

उत्तर प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला, सहकारी चीनी मिलों के गन्ना किसानों के लिए 500 करोड़ स्वीकृत

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि किसानों को त्वरित गन्ना मूल्य भुगतान कराने हेतु सरकार संकल्पबद्ध है

मुंबई:

उत्तर प्रदेश की सहकारी चीनी मिलों के गन्ना किसानों के लिए अच्छी खबर है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गन्ना कृषकों को तत्काल गन्ना मूल्य भुगतान कराये जाने हेतु निर्देश दिये गये हैं. शासन द्वारा किसानों के बकाया गन्ना मूल्य भुगतान के लिए 500 करोड़ रुपये की धनराशि अवमुक्त कर दी गयी है. ऋण के रूप में मिली यह धनराशि सीधे किसानों के खाते में जाएगी.  गन्ना मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने बताया कि पेराई सत्र 2021-22 के बकाया गन्ना मूल्य के भुगतान हेतु वर्तमान वित्तीय वर्ष 2022-23 के बजट अर्न्तगत प्राविधानित धनराशि के सापेक्ष यह ऋण स्वीकृत किया गया है. उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान सरकार में किसानों का हित सर्वाेपरि है.

यह भी पढ़ें

इस संबंध में अपर मुख्य सचिव, चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास श्री संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि किसानों को त्वरित गन्ना मूल्य भुगतान कराने हेतु सरकार संकल्पबद्ध है और सहकारी चीनी मिलों की भुगतान क्षमता को ध्यान में रखते हुए गन्ना मूल्य के त्वरित भुगतान के लिए सहकारी मिलों को 500 करोड़ की वित्तीय सहायता ऋण के रूप में प्रदान की गई है. यह धनराशि सहकारी मिलों को आवंटित कर सीधे गन्ना किसानों के खातों में भेजी जाएगी.

उन्होंने यह भी बताया कि आयुक्त एवं अपर मुख्य सचिव चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग के स्तर से चीनी मिलों द्वारा किसानों को किये जा रहे गन्ना मूल्य भुगतान की स्थिति की सतत् समीक्षा की जा रही है. अब तक कुल 1,75,835.28 करोड़ रुपये का रिकार्ड गन्ना मूल्य भुगतान किसानों को किया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- 

Video : शिव सेना नेता की डिप्टी स्पीकर से मुलाकात, 16 बाग़ियों को अयोग्य घोषित किए जाने की मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *