Bizarre Statement Of BJP Leader On Maharashtra Political Crisis, God Is Punishing The Culprits Of Sushant Singh – उद्धव ठाकरे पर BJP नेता का अजीबोगरीब बयान, सुशांत के दोषियों को छोड़ा इसलिए भगवान दे रहा है सजा

1 min read

उद्धव ठाकरे पर BJP नेता का अजीबोगरीब बयान,

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर बोले निखिल आनंद

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक संकट के बीच बिहार बीजेपी के प्रवक्ता का अजीबोगरीब बयान आया है. बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने शुक्रवार को कहा कि भगवान उद्धव ठाकरे को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की हत्या के दोषियों को बचाने की सजा दे रहा है. निखिल इतने पर ही नहीं रुके उन्होंने उद्धव ठाकरे की शिवसेना को फर्जी संगठन तक कह दिया. उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे, उनके बेटे आदित्य ठाकरे और उनके प्रवक्ता संजय राउत पर श्राप लगा है. आनंद ने महाराष्ट्र सरकार पर सुशांत सिंह राजपूत और उनकी मैनेजर दिशा की क्रूर हत्या से जुड़े सबूतों के मिटाने का भी आरोप लगाया है. निखिल आनंद बिहार में पार्टी के प्रवक्ता होने के साथ-साथ ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव भी हैं.

यह भी पढ़ें

सुशांत सिंह राजपूत केस पर सीबीआई की चुप्पी पर महाराष्ट्र कांग्रेस ने उठाए सवाल

बता दें कि बीते दिनों कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई ने को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) पर फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में जांच पर “चुप्पी” साधने का आरोप लगाया था. सीबीआई ने एक साल पहले मामले में जांच संभाली थी. पार्टी ने आरोप लगाया था कि राष्ट्रीय जांच एजेंसियों का इस्तेमाल केंद्र अपने खुद के ‘राजनीतिक एजेंडा’ के लिए कर रहा है. 

सुशांत सिंह राजपूत की पहली बरसी पर कांग्रेस का हमला बोल, CBI और मोदी सरकार पर दागे सवाल

राजपूत (34) 14 जून, 2020 को मुंबई के बांद्रा इलाके में अपने अपार्टमेंट में पंखे पर फंदे से लटके मिले थे और सीबीआई ने पिछले साल अगस्त में जांच का जिम्मा संभाला था. प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने ट्वीट किया, “सीबीआई द्वारा सुशांत सिंह राजपूत की दुर्भाग्यपूर्ण मौत की जांच बिहार पुलिस से लिए हुए आज एक साल हो गया. बिहार पुलिस द्वारा प्राथमिकी सीआरपीसी की धारा 177 के तहत दर्ज की गई थी. शीर्ष अदालत ने भी मुंबई पुलिस द्वारा की गई जांच पर संतुष्टि जताई थी.”

रिया चक्रवर्ती का NCB के सामने बड़ा खुलासा- बहन और जीजा के साथ ड्रग्स लेते थे सुशांत सिंह राजपूत

उन्होंने कहा था कि अब 300 दिन से भी ज्यादा हो गए हैं जब एम्स की एक समिति ने हत्या होने की बात खारिज कर दी थी. उन्होंने ट्वीट में आरोप लगाया, “सीबीआई जान-बूझकर चुप है. राष्ट्रीय जांच एजेंसियों द्वारा जांच का यह मजाक इस बात का उपयुक्त उदाहरण है कि मोदी सरकार इन एजेंसियों का इस्तेमाल अपने राजनीतिक एजेंडे के लिए कैसे कर रही है.”

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *