World Music Day 2022: Benefits Of Listening To Music And Music Therapy For Health  – World Music Day 2022: गाने सुनने में मजा तो आता ही है, साथ ही मिलते हैं ये चौंकाने वाले फायदे, अब से कुछ इस तरह सुनना होगा सॉन्ग

1 min read

World Music Day 2022: गाने सुनने में मजा तो आता ही है, साथ ही मिलते हैं ये चौंकाने वाले फायदे, अब से कुछ इस तरह सुनना होगा सॉन्ग

World Music Day: विश्व संगीत दिवस पर जानें गाने सुनने के लाभ.

खास बातें

  • हर साल 21 जून के दिन मनाया जाता है विश्व संगीत दिवस.
  • गाने सुनने से सेहत भी होती है अच्छी.
  • म्यूजिक थेरेपी भी आती है काम.

World Music Day 2022: कहते हैं प्रकृति संगीत से भरी हुई है. झरने की कलकल, पक्षियों की चींचीं, पत्तों का हिलना और बारिश की टपटप सब संगीत ही तो है. हमें हर अवसर पर गाने सुनने अच्छे लगते हैं, खुशी हो तो गाने, दुख हो तो गाने, प्यार में पड़ गए तो गाने और अगर दिल टूट जाए तब भी गाने सुनने पर अच्छा महसूस होता है. खासकर सफर में गाने (Songs) सुनते हुए जाने पर खुद को किसी म्यूजिक वीडियो का हिस्सा समझने की बात ही कुछ और होती है. संगीत के प्रति प्यार ही है जिस चलते 1982 से हर साल 21 जून के दिन विश्व संगीत दिवस (World Music Day) मनाया जाता है. इसे मनाने की शुरुआत फ्रांस से हुई थी जिसे फ्रांसीसी मिनिस्टर ऑफ कल्चर ने आयोजित किया था. आइए जानें, सेहत के लिए किस तरह संगीत फायदेमंद है. 

यह भी पढ़ें

गाने सुनने के फायदे | Benefits of Listening to Music 

  • गाने सुनने पर बिना किसी दोराय मूड अच्छा होता है. इससे शरीर में डोपामिन हार्मोन रिलीज होता है जिस चलते गाने सुनने पर मूड बूस्ट (Mood Boost) होता है. 
  • ‘दिल है कि मानता नहीं’ बिलकुल सही बात है लेकिन दिल गाने सुनकर खुश जरूर रहता है. कई रिसर्च बताती हैं गाने सुनने पर ब्लड फ्लो बेहतर होता है. 
  • गाने सुनने पर हार्ट रेट और ब्लड प्रेशर की दिक्कत को कम होते भी देखा गया है. 
  • तनाव (Stress) को कम करने में भी संगीत को अच्छा माना जाता है. कई रिसर्च में भी इसे तथ्य माना गया है. 
  • तनाव को कम करने के चलते गाने सुनने पर दर्द की अनुभूति भी कम होती है. वहीं, मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर करने में म्यूजिक थेरेपी (Music Therapy) को अच्छा माना जाता है. 
  • म्यूजिक थेरेपी को यादें लौटाने में मददगार समझा जाता है. भूलने की बीमारी में म्यूजिक थेरेपी दी जाती है. 
  • वर्कआउट करते समय हिपहॉप म्यूजिक सुनने पर फिजिकल परफॉर्मेंस बेहतर होती है. 

किस तरह सुने गानें

असल में इस सवाल का कोई सही जवाब नहीं है. सभी की गाने की पसंद और उन्हें सुनने का तरीका अलग होता है जो उन्हें खुशी और राहत देता है. हालांकि, बात अगर म्यूजिक थेरेपी की करें तो उसकी सलाह डॉक्टर मरीज को देखकर उसकी हालत के अनुसार देते हैं.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

ये 5 बुरी आदतें बनाती हैं हड्डियों को कमजोर, आज से ही करना छोड़ दें ये काम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *