Planting These 3 Vastu Plants With Tulsi Luck Will Be Change – Vastu Plants : इन 3 पौधों को तुलसी के साथ लगाने से बदलती है किस्मत, घर से निगेटिव एनर्जी रहेगी दूर

1 min read

Vastu plants : इन 3 पौधों को तुलसी के साथ लगाने से बदलती है किस्मत, घर से निगेटिव एनर्जी रहेगी दूर

Tulsi के साथ शमी, काला धतुरा और केले का पौधा लगाने से घर में देवी लक्ष्मी का रहता है वास.

खास बातें

  • तुलसी के साथ शमी लगाने से घर में बनी रहती है शांति.
  • काले धतूरे से शिव की बनी रहती है कृपा.
  • इन पौधों से नकारात्मकता रहती है दूर.

Vastu tips : तुलसी एक ऐसा पौधा है जिसे न सिर्फ हम पूजते हैं बल्कि उसके औषधि लाभों का भी फायदा उठाते हैं. इसको पूजने से मन को शांति मिलती है और खाने से सेहत बेहतर होता है. लेकिन इसके अलावा भी कई ऐसे पौधे हैं जिसे लगाने से घर में सुख शांति बनी रहती है. ये पौधे न सिर्फ आपके घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर रखने का काम करेंगे बल्कि पितृ दोष भी दूर होगा. तो आइए जानते हैं.

यह भी पढ़ें

तुलसी के साथ लगाएं इन पौधों को | these plants with Tulsi

शमी का पौधा | Shami plant

यह पौधा शनि देव को अत्यंत प्रिय ऐसे में इस पौधे को तुलसी के साथ लगाने से शनि देव और देवी लक्ष्मी दोनों की कृपा बनी रहेगी. इसे आंगन में या घर के मुख्य द्वार पर लगाने से ज्यादा लाभ होता है. आपको बता दें कि शमी के पौधे से भगवान शिव भी प्रसन्न होते हैं. 

काला धतूरा | Kala dhatura

वहीं, काले धतूरे का पौधा लगाने से भी शिव शंकर की कृपा बनी रहती है. इस वास्तु पौधे में भगवान शिव खुद विराजमान रहते हैं. ऐसे में इसको तुलसी के साथ लगाने से इसका फल दोगुना हो जाएगा. आपको बता दें कि काले धतूरे का इस्तेमाल बाबा भोले नाथ की पूजा अर्चना में जरूर किया जाता है.

केले का पौधा | Banana Plant

गुरुवार को केले के पौधे की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है. धार्मिक मान्यता है कि केले के पौधे में भगवान विष्णु का वास होता है. ऐसे में इस पौधे को भी तुलसी के साथ लगाने से घर में सुख शांति बनी रहेगी और भगवान विष्णु की कृपा भी बनी रहेगी. एक बात का ध्यान रखें की केले के पौधे को दक्षिण दिशा में न लगाएं. माना जाता है कि दक्षिण दिशा में केले इसे लगाने से आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है. आपको बता दें कि इन पौधों को लगाने से पितृ दोष भी दूर होता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

ये 5 बुरी आदतें बनाती हैं हड्डियों को कमजोर, आज से ही करना छोड़ दें ये काम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *