Polygon Co Founder Says Web 3 Will Be A Hit In Slowdown Crypto Market

1 min read

Polygon के को-फाउंडर को है Web 3 में पूरा विश्वास

क्रिप्टो मार्केट में मंदी का असर क्रिप्टो फर्मों पर अब दिखने लगा है

खास बातें

  • Polygon के co-founder संदीप नैलवाल ने Web 3 को लेकर किया ट्वीट
  • ट्वीट में को-फाउंडर ने कहा कि Web 3 में हैं अपार संभावनाएं
  • क्रिप्टोकरेंसी मार्केट की मंदी अभी खत्म होती नहीं दिख रही है

पिछले कुछ दिनों से बिटकॉइन समेत लगभग सभी पॉपुलर टोकनों में गिरावट लगातार जारी है. इनमें बिटकॉइन, ईथर जैसे बड़े कॉइन्स से लेकर छोटे कॉइन्स भी शामिल हैं जो वैल्यू में बढ़त के लिए लगातार संघर्ष करते नजर आ रहे हैं. इस बीच Polygon के को-फाउंडर की ओर से एक आशा भरा बयान आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि Web 3 आने वाले समय में बड़े पैमाने पर उभरेगी. इस क्रिप्टो दिग्गज का मानना है कि Web 3 का भविष्य उज्जवल होने वाला है. हालांकि, मार्केट एक्सपर्ट्स अब इस बात को कहने लगे हैं क्रिप्टो मार्केट में मंदी का जो यह दौर चल रहा है, यह अभी लंबा चलने वाला और मार्केट को इससे उबरने में सालभर से भी ज्यादा का समय लग सकता है. 

Polygon के co-founder संदीप नैलवाल ने एक हालिया ट्वीट में Web 3 के भविष्य को लेकर महत्वपूर्ण टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि भले ही मार्केट में इस वक्त उथल-पुथल मची है लेकिन कुछ समय बाद यह फिर से उठेगी. 

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “लॉन्ग टर्म के लिए Web 3 बहुत बहुत ऊपर जाने वाला है, इसलिए जो नए हैं वे सीखते रहें और जो बिल्ड कर रहे हैं वे और ज्यादा बनाते रहें.”

यह भी पढ़ें


नैलवाल ने कहा कि मार्केट में मंदी का दौर लम्बा चल सकता है. हालांकि, उन्होंने साथ में ये भी कहा कि अगर अमेरिकी फेडरल रिजर्व मार्केट में आई इस अनिश्चितता को काबू करने में कामयाब हो जाती है तो मार्केट की इस मंदी पर ब्रेक लग सकता है. कई सारे वेंचर कैपिटल फंड्स ने हाल ही में फंड भी जुटाया है. नैलवाल का मानना है कि ये वेंचर कैपिटल भले ही दांव चुनने में सावधानी बरतेंगे और स्वीकार करने लायक वैल्युएशन बहुत कम होगी, लेकिन फिर भी थीसिस आधारित वेंचर कैपिटल मार्केट में आते रहेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि इनमें से अधिकतर VC लिक्विड मार्केट में भी हाथ आजमाएंगे.  

पॉलिगन के को-फाउंडर ने मार्केट के बारे में अनुमान लगाते हुए कहा कि धीरे धीरे मार्केट अपने सबसे निचले स्तर तक गिरेगी और फिर रुक जाएगी. ऐसे में अगले 3 से 6 महीने में इनफ्लेशन अपने पीक पर होगी. उसके बाद धीरे धीरे चीजें सामान्य होना शुरू हो जाएंगी. 

क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में आ रही मंदी का असर क्रिप्टो फर्मों पर भी दिखना शुरू हो गया है. कई क्रिप्टो फर्मों ने ऑपरेशन में आ रही लागत को कम करने की शुरुआत कर दी है. अमेरिकी क्रिप्टो फर्म Coinbase ने अपने कर्मचारियों की संख्या को कम करने की घोषणा की है. अनुमान है कि कंपनी से लगभग 1000 कर्मचारियों की छटनी हो सकती है. कंपनी ने कर्मचारियों को इसकी सूचना ईमेल के जरिए भेज दी है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *