Court Sends Gangster Lawrence Bishnoi To 7-day Remand In Moose Wala Murder Case – Moose Wala Murder Case : लॉरेंस बिश्नोई को 7 दिन की रिमांड पर भेजा गया, सुबह 4 बजे मानसा अदालत में हुई थी पेशी

1 min read

लॉरेंस बिश्नोई से 7 दिन होगी पूछताछ

मानसा:

पंजाब के मानसा कोर्ट ने सिद्धू मूसे वाला मर्डर केस के अहम किरदार माने जा रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को 7 दिन की रिमांड पर भेजा दिया है. आज सुबह ही गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को 4 बजे मानसा अदालत में पेश किया गया था. पंजाब पुलिस ने सिद्धू मूसे वाला हत्याकांड में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को बुधवार को मानसा कोर्ट में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया था. दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने मंगलवार को पंजाब पुलिस को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को गिरफ्तार करने की अनुमति देने के बाद उसे पंजाब ले जाया गया और पंजाब पुलिस के ट्रांजिट आवेदन को भी अनुमति दी. 

यह भी पढ़ें

लॉरेंस बिश्नोई की ओर से पेश हुए वकील विशाल चोपड़ा ने पंजाब पुलिस की अर्जी का विरोध किया और कहा कि सुरक्षा को खतरा है. लॉरेंस बिश्नोई के वकील ने कहा कि हम वर्चुअल पूछताछ और जांच का विरोध नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा, “हम पंजाब को उसकी फिजिकल ट्रांजिट रिमांड का विरोध कर रहे हैं. पंजाब पुलिस जरूरत पड़ने पर उसे मामले में गिरफ्तार कर सकती है, लेकिन दिल्ली में ही.” पंजाब के मनसा जिले के जवाहर के गांव में 29 मई को सिद्धू मूसे वाला की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. यह घटना पंजाब पुलिस द्वारा 424 अन्य लोगों की सुरक्षा वापस लेने के एक दिन बाद हुई थी. 

ये भी पढ़ें: क्या राहुल गांधी को गिरफ्तार किया जाएगा? जानें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने क्या कहा

इससे पहले लॉरेंस बिश्नोई को मंगलवार के दिन दिल्ली की कोर्ट में पेश किया गया.  जहां कोर्ट ने लॉरेंस बिश्नोई को पंजाब पुलिस (Punjab Police) के ट्रांजिट रिमांड पर भेज दिया. पंजाब के एडवोकेट जनरल ने कोर्ट में लॉरेंस बिश्नोई की ट्रांजिट रिमांड के लिए अर्जी दाखिल की थी. कोर्ट में मौजूद दिल्ली पुलिस ने भी उसकी कस्टडी मांगी थी. पंजाब पुलिस ने भी मूसे वाला मर्डर का जिक्र किया. पंजाब पुलिस ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो का जिक्र करते हुए कहा कि सिद्धू मूसे वाला के मर्डर की जिम्मेदारी ली गई है और लॉरेंस बिश्नोई उससे संबद्ध रखते हैं. पुलिस ने बिश्नोई को गोल्डी के तमाम संगीन अपराधों में शामिल बताते हुए ट्रांजिट रिमांड मांगी थी.

VIDEO: पुलिस की यातना, बीजेपी विधायक का जश्न, सौरभ शुक्ला की सहारनपुर से रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित