Former Chambal Dacoits Wife Elected Sarpanch Unopposed In Madhya Pradesh

1 min read

मध्य प्रदेश में चंबल के पूर्व डकैत की पत्नी निर्विरोध सरपंच निर्वाचित

पूर्व डकैत मलखान सिंह के साथ उनकी पत्नी ललिता राजपूत जो कि निर्विरोध सरपंच चुनी गई हैं.

भोपाल:

Madhya Pradesh panchayat elections: मध्यप्रदेश में आगामी तीन चरणों के पंचायत चुनावों में चंबल के पूर्व खूंखार डकैत मलखान सिंह (Malkhan Singh) की पत्नी ललिता राजपूत निर्विरोध सरपंच निर्वाचित हो गई हैं. बड़ी-बड़ी मूंछों वाले और एक जमाने में भारत के डाकू राजा कहलाने वाला मलखान सिंह लंबे समय तक राज्य के डकैत प्रभावित इलाके चंबल में कुख्यात रहे. उनकी पत्नी ललिता को गुना जिले के सुंगयायी के ग्रामीणों ने निर्विरोध सरपंच चुन लिया है.

ललिता राजपूत सत्तर साल के मलखान सिंह राजपूत की दूसरी पत्नी हैं. मलखान दशकों पहले मध्य प्रदेश और इससे सटे यूपी के चंबल के बीहड़ों में सक्रिय डकैतों के पोस्टरबॉय थे. ललिता ने ग्रामीणों को धन्यवाद देते हुए कहा, “मेरे गांव में बिजली, सड़क या सीवरेज नहीं है. मैं अपने गांव के विकास के लिए काम करना चाहती हूं.”

मलखान सिंह ने भी सुंगयायी गांव के सरपंच पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया था. उन्होंने नामांकन इसलिए किया था कि अगर ललिता के कागजात जांच के दौरान किसी भी त्रुटि के कारण खारिज कर दिए जाते हैं तो वे खुद गांव के सरपंच प्रत्याशी के रूप में मैदान में होंगे. उन्होंने कहा, “मैं जनपद पंचायत सदस्य निर्विरोध चुना गया था. अब 20 साल बाद गांव का सरपंच का पद फिर से अनारक्षित हो गया है. ग्रामीणों के निरंतर दबाव ने मेरी पत्नी को अपना नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए प्रेरित किया. वह हमारे गांव के विकास के लिए काम करेगी और भ्रष्टाचार नहीं होगा.”

मलखान सिंह भिंड के रहने वाले हैं लेकिन अब वे गुना जिले के सुंगयायी में रहते हैं. उन्होंने और उनके गिरोह ने सन 1982 में मध्य प्रदेश के तत्कालीन सीएम अर्जुन सिंह के सामने आत्मसमर्पण कर दिया था. उनके खिलाफ 94 केस दर्ज थे. इनमें 18 डकैती, 28 अपहरण के मामले, हत्या के प्रयास के 19 मामले और हत्या के 17 मामले शामिल थे.

मध्य प्रदेश में पंचायत में करीब चार लाख पदों को भरने के लिए तीन चरणों में 25 जून, 1 जुलाई और 8 जुलाई को मतदान होगा. नतीजे 15 जुलाई को घोषित किए जाएंगे.

यह भी पढ़ें –

मध्यप्रदेश में निर्विरोध सरपंच चुनने वाली पंचायतों को मिलेंगे पांच लाख रुपये

मध्यप्रदेश में 25 जून से पंचायत चुनाव होंगे शुरु, तीन चरणों में होंगे मतदान 

चुनाव पर ‘पंचायत’ खत्म, MP में OBC आरक्षण के साथ निकाय चुनाव के फैसले के बाद बीजेपी-कांग्रेस में ‘जुबानी जंग’ तेज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *