Sidhu Moose Wala Murder Case: Delhi Police Says Identified 6 Shooters – सिद्धू मूसे वाला मर्डर केस : दिल्ली पुलिस ने कहा, 6 शूटरों को पहचान लिया गया

1 min read

मीडिया ब्रीफिंग के दौरान विशेष पुलिस आयुक्त एचएस धालीवाल ने कहा कि पुलिस ने संदिग्धों की आठ तस्वीरें जारी की हैं और छह शूटरों की पहचान कर ली गई है.

मीडिया ब्रीफिंग के दौरान विशेष पुलिस आयुक्त एचएस धालीवाल ने कहा कि पुलिस ने संदिग्धों की आठ तस्वीरें जारी की हैं और छह शूटरों की पहचान कर ली गई है. उन्होंने बताया कि इनमें से चार के पंजाब के मनसा में हुई हत्या में शामिल होने की पुष्टि हुई है. एचएस धालीवाल ने मीडिया को बताया कि गायक की मौत संगठित हत्या थी. दिल्ली पुलिस ने बुधवार को कहा था कि इस हत्याकांड के पीछे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई मास्टरमाइंड है.

गौरतलब है कि इस घटना के संबंध में इस सप्ताह महाराष्ट्र पुलिस के साथ संयुक्त अभियान चलाकर पुणे से सिद्धेश हिरामन कांबले उर्फ महाकाल को महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम (मकोका) के तहत गिरफ्तार किया गया था.

इस बीच मूसे वाला हत्याकांड को लेकर लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ करने के लिए पुणे पुलिस दिल्ली पहुंच गई है. सिद्धू मूसे वाला की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस की हिरासत में मौजूद बदमाश लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ करने के लिए पुणे देहात पुलिस की एक टीम दिल्ली पहुंची है. बिश्नोई को मूसे वाला की हत्या के मामले में मुख्य साजिशकर्ता कहा जा रहा है. पुणे में एक अधिकारी ने समाचार एजेंसी भाषा को बताया कि पूछताछ का उद्देश्य मूसे वाला हत्याकांड के आरोपी और बिश्नोई गिरोह के सदस्य संतोष जाधव के ठिकाने के बारे में कुछ सुराग हासिल करना है, जो फिलहाल फरार है.

बिश्नोई फिलहाल दिल्ली पुलिस की हिरासत में है. बुधवार को दिल्ली पुलिस ने कहा था कि मूसलेवाला हत्या मामले में बिश्नोई मुख्य साजिशकर्ता है. पुणे देहात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘दो अधिकारियों की एक टीम दिल्ली गई है, जहां वह दिल्ली पुलिस की विशेष प्रकोष्ठ से मिलकर बिश्नोई से पूछताछ करेगी. हम जाधव के ठिकाने का पता लगाने के लिए बिश्नोई से पूछताछ करना चाहते हैं, जो उस गिरोह का एक सदस्य है.”

जाधव की पहचान मूसेवाला हत्याकंड में एक शूटर के तौर पर हुई है. वह पुणे में भी हत्या के एक मामले में आरोपी है. इस मामले में पुलिस ने उसके खिलाफ मकोका लगाया है. अधिकारी ने बताया कि जाधव के ठिकानों की जानकारी लेने के अलावा पुणे देहात पुलिस यह भी जानना चाहती है कि क्या महाराष्ट्र का कोई अन्य युवक भी बिश्नोई गिरोह में शामिल है? उन्होंने कहा कि दिल्ली की टीम के अलावा तीन और टीमों को जाधव का पता लगाने के लिए भेजा गया है.

इस बीच पंजाब पुलिस की एक टीम पुणे देहात पुलिस मुख्यालय पहुंची. यह टीम मूसेवाला हत्याकांड के मामले में बिश्नोई गिरोह के एक अन्य कथित सदस्य ‘महाकाल’ उर्फ सिद्धेश काम्बले से पूछताछ करेगी, जो स्थानीय पुलिस की हिरासत में है. जाधव को आश्रय देने के आरोप में काम्बले पुणे देहात पुलिस को वांछित था. उसके खिलाफ भी महाराष्ट्र संगठित अपराध रोकथाम अधिनियम (मकोका) लगाया गया है . उसके खिलाफ पुणे जिले में 2021 में हत्या का मामला दर्ज किया गया था.

इस बीच, मुंबई पुलिस ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि बिश्नोई गिरोह के तीन सदस्यों ने सिने अभिनेता सलमान खान और उनके पिता सलीम खान को पत्र लिख कर धमकी दी है और यह बदमाश बिक्रम बरार की साजिश है ताकि उन्हें डरा कर उनसे जबरन वसूली की जा सके.

गायक मूसे वाला ने प्रतिद्वंद्वी रैपर्स और राजनेताओं पर हमला करने वाले आकर्षक गीतों को पेश करके शोहरत प्राप्त की. मूसे वाला न केवल भारत में बल्कि विदेशों में भी एक बड़े स्टार थे, विशेष रूप से कनाडा और ब्रिटेन में पंजाबी मूल के समुदाय में वे खासे लोकप्रिय थे.

यह भी पढ़ें – 

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस: सीएम भगवंत मान ने गैंगस्टर गोल्डी बरार को पकड़ने के लिए कनाडा से मांगी मदद

सिद्धू मूसेवाला को गोली मारने वाले आठ शूटरों में से एक शूटर गिरफ्तार : पुलिस

सिद्धू मूसे वाला मर्डर केस : गैंगस्टर गोल्डी बरार के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित