पी सी एस -18 के पी ई एस कैडर पर चयनित डॉ .उपासना रानी वर्मा बनीं कमला नगर प्रयागराज की प्रधानाचार्या

1 min read

पी सी एस -18 के पी ई एस कैडर पर चयनित डॉ .उपासना रानी वर्मा बनीं कमला नगर प्रयागराज की प्रधानाचार्या …

अपने परिवार की शैक्षिक विरासत को महफ़ूज़ रखने में क़ामयाब हुईं प्रवक्ता से प्राचार्या बनी उपासना …

प्रदेश के महामहिम राज्यपाल ने किया अनुमोदन जनपद ने जताया हर्ष ..

विजय चौधरी / सह संपादक

अम्बेडकरनगर। पी सी एस -18 के पी ई एस कैडर में तीसरा रैंक हासिल करने वाली जनपद की मूल निवासिनी डॉ .उपासना रानी वर्मा अब प्रयागराज स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय मण्डल इण्टर कालेज कमला नगर बहरिया के प्रधानाचार्या पद पर आसीन होंगीं । जिसे उत्तरप्रदेश के महामहिम राज्यपाल द्वारा विधिसम्मत अनुमोदित कर दिया गया ।सीमित संसाधन एवं उच्च शैक्षिक परिवार से ताल्लुक रखने वाली प्रवक्ता से प्राचार्या बनी डॉ .उपासना के इस उपलब्धि से जनपद ने हर्ष जताया है ।
विदित हो कि जनपद अम्बेडकर नगर के विकासखण्ड जलालपुर अंतर्गत अस्ताबाद की मूल निवासिनी डॉ .उपासना रानी वर्मा का एक सीमित संसाधन युक्त पर उच्च शैक्षिक परिवार से बहुत ही गहरा व पुराना ताल्लुक रहा है । विगत 15 वर्षों से जनपद मुख्यालय स्थित राजकीय बालिका विद्यालय में प्रवक्ता पर कार्यरत डॉ .उपासना रानी वर्मा की शैक्षिक विरासत पर चर्चा की जाय तो उनकी यह पृष्ठभूमि काफी मजबूत व उर्वर शुरू से ही रही है । जिसे इन्होंने और जीवंत बनाकर गाढा कर दिया । जलालपुर विकासखण्ड अन्तर्गत अस्ताबाद निवासी ग्राम पंचायत सचिव रहे स्व .सूर्यबली वर्मा की पुत्रवधू डॉ .वर्मा के पति चंद्रसेन वर्मा दो भाई एवं दो बहनें हैंं । चंद्रसेन वर्मा खुद स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी हैंं जो पड़ोसी जनपद सुल्तानपुर के एक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर तैनात हैंं । बड़े भाई इंद्रसेन वर्मा अधिशाषी अभियंता के पद पर प्रयागराज में दशकों से अपनी सेवा दे रहें हैंं । जिनकी पत्नी कमलेश वर्मा परास्नातक , एल एल बी हैंं । कुशाग्र प्रतिभा की धनी बड़ी बहन शैल वर्मा केंद्रीय विद्यालय कानपुर में वाइस प्रेंसिपल पर हैंं । छोटी बहन गिरजेश वर्मा भी सहायक अध्यापिका पद पर तैनात हैंं । यही नहीं डॉ .वर्मा की माँ का भी प्रधानाध्यापिका पद पर सेवा आज भी जारी है ।
शिक्षा जगत से गहरा ताल्लुक रखने वाली डॉ .उपासना रानी वर्मा शुरू से ही मेधा की धनी रहीं । इनकी प्रारम्भिक शिक्षा विसई पूर्व .मा .विद्यालय हरिपाल पुर , मिश्रीलाल आर्य कन्या इण्टर कालेज टाण्डा से इण्टरमीडिएट , स्नातक , परास्नातक , एम एड एवं पी एच डी की उपाधि डॉ .राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय अयोध्या से ग्रहण की हैंं ।
घर परिवार की जिम्मेदारी बच्चों की परवरिश के साथ ही स्वयं के अध्ययन व अध्यापन कार्य के बीच मधुर सामंजस्य स्थापित कर पी सी एस में चयनित होने की कशमकश से संघर्ष करती हुई ऐसे पद पर चयनित होने तक का सफ़र काफी दिलचस्प व जीवटता पूर्ण रहा । अपनी इस सफलता का श्रेय देती हुई डॉ .वर्मा ने बताया कि माता पिता का आशीर्वाद व नेक संस्कार , स्वजनों , पति का हर कदम पर सतत मिल रहा सम्बल , मार्गदर्शन व प्रोत्साहन परम आदरणीय गुरु अंगद सिंह का कुशल व परिपक्व मार्गदर्शन ही रहा जिन सोपानों से गुजरती हुई मैंने यह मंजिल तय कियें हैंं । साथ ही पूर्ण आत्मविश्वास , धैर्य , लक्ष्य के प्रति समर्पण एवं सतत प्रयास के बूते ही यह सफ़लता अर्जित हुई जो आने वाली नयी पीढ़ी को सफ़ल होने के लिए टिप्स के रूप में मैं देना चाहूंगी ।
महामहिम राज्यपाल द्वारा अनुमोदन प्राप्त कर प्रवक्ता से प्राचार्या बनी डॉ .उपासना वर्मा के इस उपलब्धि पर मुदित पूर्व चेयरमैन चन्द्रप्रकाश वर्मा , जिला पंचायत अध्यक्ष श्यामसुंदर वर्मा , आनंद वर्मा अकबरपुर , अनिल कुमार वर्मा मौसम कटेहरी , सुरजीत वर्मा टाण्डा ब्लॉक प्रमुख गण , सियाराम वर्मा जिलाध्यक्ष प्रधान संघ अम्बेडकर नगर सहित अन्य गणमान्यजनो ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए खुशी का इज़हार किया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित