शिक्षकों ने आज जिलाध्यक्ष राजाराम वर्मा के नेतृत्व में वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से 11 बजे से 2 बजे तक रखा उपवास

1 min read

शिक्षकों ने आज जिलाध्यक्ष राजाराम वर्मा के नेतृत्व में वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से 11 बजे से 2 बजे तक रखा उपवास

अम्बेडकरनगर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर अम्बेडकर नगर जनपद में शिक्षकों ने आज जिलाध्यक्ष राजाराम वर्मा के नेतृत्व में वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से 11 बजे से 2 बजे तक उपवास रखा, तदोपरांत 2 बजे पंचायत चुनाव के कारण कोरोना से संक्रमित होकर दिवंगत हुए अपने साथियों को श्रद्धांजलि अर्पित किया तथा जिले के विभिन्न समस्याओं के बारे में वार्ता किए। वर्चुअल मीटिंग में प्रमुख रूप से मंडल के रामानुज तिवारी, जिले के संरक्षक कपिल देव उपाध्याय, जिला मंत्री अजय यादव,मीडिया प्रभारी अमित कुमार यादव, उपाध्यक्ष अकबर एजाज़ साहब ,उपाध्यक्ष डॉ. विजय वर्मा,उपाध्यक्ष राजेन्द्र कुमार, कोषाध्यक्ष दिनेश कुमार मिश्र ,संगठन मंत्री साकेत बिहारी, संयुक्त मंत्री कमलेश वर्मा,संयुक्त मंत्री गिरीश द्विवेदी, संयुक्त मंत्री श्याम मोहन , सदस्य कार्यकारिणी अरुण कुमार यादव,आनंद दूबे,आय व्यय निरीक्षक सभाजीत, उपाध्यक्ष राम सिंगार यादव,ओम प्रकाश, अर्जुन ,रवींद्र वर्मा,सुशील मौर्य,संदीप वर्मा, महेंद्र वर्मा, उमेश,दिनेश प्रजापति, प्रेमशंकर ,राजित राम यादव सहित आदि पदाधिकारी उपस्थित रहकर कार्यक्रम को सफल बनाया। आज के वर्चुअल कार्यक्रम में जनपद के पदाधिकारियों को प्रांतीय मंत्री श्रीकृष्ण यादव का भी आशीर्वाद प्राप्त हुआ, प्रांतीय मंत्री भी कुछ समय कार्यक्रम से जुड़कर जनपद पदाधिकारियों को मार्गदर्शन प्रदान किया और बैठक को संबोधित भी किया। कार्यक्रम के अंत में मंडल अध्यक्ष  रामानुज तिवारी के नेतृत्व में जिले के सभी पदाधिकारियों ने 2 मिनट का मौन रखकर पंचायत चुनाव में कोरोनावायरस से संक्रमित होकर अपनी जान गवाने वाले शिक्षक साथियों को श्रद्धांजलि अर्पित किया व ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई। अंत में शिक्षा मंत्री/उप मुख्यमंत्री एवं मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश को 10 सूत्री ज्ञापन भेज कर शीघ्र कार्यवाही की मांग की गई, जिसमें प्रमुख रूप से कोरोना महामारी के दौरान मृत्यु काल का ग्रास बने सभी शिक्षकों एवं कर्मचारियों के परिवारों को एक करोड़ की आर्थिक सहायता दिए जाने की मांग। सभी मृत्यु शिक्षकों/ कर्मचारियों के आश्रितों को उनकी योग्यता अनुसार अतिशीघ्र उनकी नियुक्ति किए जाने तथा गंभीर आर्थिक संकट से गुजर रहे वित्तविहीन शिक्षकों के लिए कोरोना काल में आर्थिक पैकेज दिए जाने की मांग सहित अन्य मांग भी शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित