गणतन्त्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली को जगह-जगह पुलिस प्रशासन ने रोका 

1 min read

गणतन्त्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली को जगह-जगह पुलिस प्रशासन ने रोका 

अम्बेडकरनगर। केन्द्र सरकार द्वारा किसान बिल पास करने पर किसानों द्वारा अलग अलग स्थानों पर विरोध किया जा रहा हैं।किसान अपनी माँग को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहें हैं मगर सरकार किसानों की माँग पर जरा भी विचार करने को तैयार नहीं है। किसानों द्वारा 26 जनवरी को जब सरकार के बिरोध में ट्रैक्टर के साथ जिला मुख्यालय पर शान्तिपूर्ण प्रदर्शन करने के लिए घरों से निकलें ही थे कि ग्रामीण इलाकों में क्षेत्रीय पुलिस कर्मियों द्वारा जबरन रोककर वापस घर भेज दिया गया। सूत्रों के मुताबिक समाजवादी पार्टी ,सरदार सेना ,किसान यूनियन के राजनेताओं और समाज वादी पार्टी के राजनेता विशाल वर्मा द्वारा अम्बेडकरनगर के कलेक्ट्रेट पर किसान बिल के बिरोध में ट्रैक्टर पर तिरंगा लगाकर प्रदर्शन करने के लिए उनके समर्थक घरों से बाहर ट्रैक्टर लेकर निकले ही थे

कि थाना अलीगंज क्षेत्र के प्रभू नगर बाजार मे मेडिकल कालेज पुलिस चौकी प्रभारी अन्जनी कुमार ने पुलिस बल के साथ मौके पर पँहुचकर ट्रैक्टर से रैली जा रहे किसानों को रोक कर वापस घर भेज दिया ।हरीनगर बाजार मे भी विशाल वर्मा के समर्थको के लगभग 100 ट्रैक्टर को अकबरपुर प्रदर्शन के लिए जा रहे किसानों को अलीगंज थानाध्यक्ष दयाशंकर मित्रा ने रोक कर वापस घर भेज दिया।अरिया बाजार में समाजवादी के वरिष्ठ राजनेता राम मूर्ति वर्मा के लगभग 150 ट्रैक्टर काफिले को कोतवाली अकबरपुर पुलिस द्वारा रोक दिया गया। किसानों की ट्रैक्टर रैली को पुलिस प्रशासन ने भले ही रोक कर वापस भेज दिया है मगर किसानों का सरकार के प्रति आक्रोश कम नही हो रहा है। किसानों की यह चिंगारी सरकार के लिए विकराल रुप धारण कर आने वाले चुनाव में लंका दहन साबित कर सत्ता परिवर्तन का काम करने में सफल हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित