कोविड-19 एल-2 हास्पिटल में ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की व्यवस्था से मरीजों व उनके परिजनों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद

1 min read

कोविड-19 एल-2 हास्पिटल में ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की व्यवस्था से मरीजों व उनके परिजनों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद

टाण्डा अम्बेडकरनगर। टांडा स्थित एमसीएच विंग में 4 दर्जन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पहुंच गया है जोकि इस कोरोना महामारी में आक्सीजन की कमी को पूरा करने में मदद करेगा और मरीजों की जान बचाने के लिए काफी उपयोगी साबित होगा । टाण्डा में बने कोविड-19 एल-2 हास्पिटल में ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की व्यवस्था से मरीजों व उनके परिजनों इस से बड़ी राहत मिलने की उम्मीद है।


टाण्डा के सी एच सी परिसर में 200 बेड के नवनिर्मित मातृ एवं शिशु अस्पताल को शुरू होने से पहले महामारी के प्रकोप से बचने के लिए शासन के निर्देश पर 120 बेड का कोविड-19 स्पेशल एल-2 में तब्दील कर दिया गया है। 120 बेड क्षमता के उक्त हास्पिटल में फिलहाल वेंटिलेटर की व्यवस्था नहीं है लेकिन 60 बेड पर ऑक्सीजन किट को व्यवस्था की गई है जिसके कारण मौजूदा समय में एक साथ 60 मरीजों को ही भर्ती किया जाता है। एल-2 विंग के प्रभारी डॉक्टर अतीक आलम ने बताया कि कोविड-19 एल-3 हास्पिटल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है लेकिन मरीजों के कुछ परिजनों द्वारा ऑक्सीजन उपलब्ध ना होने की गलत शिकायत की जा रही थी जिसके बाद जिलाधिकारी सैमुअल पॉल एन के निर्देश व मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर अशोक कुमार के प्रयास से अस्पताल में लगभग चार दर्जन ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर मंगाया गया है। बताते चलेंकि ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर ऑक्सीजन पैदा करने का काम करता है और जब तक उसे बिजली मिलती रहती है तब तक ऑक्सीजन उपलब्ध कराता रहता है। मौजूदा समय में सर्वाधिक मरीजों का ऑक्सीजन लेबल कम होता जाता है जिन्हें सांस लेने की दिक्कतें सामने आ रही है उन्हें तत्काल व निरन्तर ऑक्सीजन पर रख जाता है और ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर मशीन इस महामारी के दौर में काफी उपयोगी है जिससे मरीजों को जहां आराम मिलेगा वहीं उनके परिजनों को ऑक्सीजन समाप्त होने की चिंता समाप्त हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित