……यहाँ तो यदि आपको कोरोना की जाँच करवानी है तो आपको खुद डॉक्टर बनना पड़ेगा

1 min read

……यहाँ तो यदि आपको कोरोना की जाँच करवानी है तो आपको खुद डॉक्टर बनना पड़ेगा,

अम्बेडकरनगर। जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है। जहाँ एक तरफ सरकार कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कुछ शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा रही है तो वही अम्बेडकरनगर में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ गया है। जिला मुख्यालय के अकबरपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर यदि आपको कोरोना की जाँच करवानी है तो आपको खुद डॉक्टर बनना पड़ेगा और खुद अपनी जाँच करनी पड़ेगी। दरअसल यहाँ बैठे स्टाफ द्वारा कोरोना की जांच करवाने पहुँच रहे लोगो को किट पकड़ा दी जाती है और उन्हें कह दिया जाता है कि वह खुद बाहर जाकर अपनी जाँच कर ले। यानि मरीज खुद अपना स्वैब निकाले और किट में डाल कर जाँच करें। अस्पताल में बैठे कर्मचारी सिर्फ खिड़की के बाहर से ही किट देख लेते है और फिर अपनी रिपोर्ट दे देते है। हद तो तब हो जाती है जब जाँच के बाद लोग किट को वही खुले में फेंक देते है। इतना ही नही कुछ लोग तो खुद से अपनी जाँच भी नही कर पाते है और बिना जाँच के ही घर वापस लौटना पड़ जाता है। अब ऐसी स्थित में संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। जबकि कोरोना की जांच स्वास्थ्य विभाग के प्रशिक्षित कर्मचारी द्वारा पीपीई किट के साथ किया जाता है। इतना ही नही इस अस्पताल में लापरवाही का आलम यह है कि यहाँ इलाज के लिए आये मरीजो को बैठने तक की ब्यवस्था नही है। बड़ी संख्या में महिलाएं जमीन पर एक साथ सटकर बैठी थी। शोसल डिस्टेंसिंग का पालन नही हो रहा था। इस पूरे मामले पर जब मुख्य चिकित्सा अधिकारी से फोन के जरिये बात की गई तो उन्होंने बताया कि मामला संज्ञान में आया है और मामले में जांच कराई जा रही है जो भी जांच रिपोर्ट आएगी उसी आधार पर कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित