सेवानिवृत्त के बाद वकील साहब कृषि विविधीकरण की ओर : प्रो. रवि प्रकाश 

1 min read

सेवानिवृत्त के बाद वकील साहब कृषि विविधीकरण की ओर : प्रो. रवि प्रकाश 

लखनऊ। बलिया जिला मुख्यालय से 16 किमी. उत्तर तथा बाँसडीह ब्लाक से 1 किमी. पश्चिम दिशा मे स्थित है, मिरिगिरी टोला। जो पिण्डरा ग्राम सभा मे आता है। इस गाँव के 71 बर्षीय नागरिक है, एडवोकेट जय प्रकाश पाण्डेय। जिनकी शिक्षा स्नातक विज्ञान , एल.एल.बी. है। सरकारी वकील के रूप मे बर्ष 1975-2011 तक सेवा के बाद सेवानिवृत्त है । आचार्य नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केन्द्र सोहाँव बलिया के अध्यक्ष प्रोफेसर रवि प्रकाश मौर्य ने वकील साहब के प्रक्षेत्र का भ्रमण कर उनसे चर्चा की। प्रो. मौर्य ने बताया कि वकील साहब के अनुसार उनके पास जमीन 5 एकड़ है।

उनके पास आधुनिक कृषि यंत्र जैसे – रोटावेटर, डिस्क हैरो, लेजर लेवलर , पैडी चापर हैरो,मल्टी प्लाऊ, ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर ,स्प्रिन्कलर सेट, टपक सिंचाई यंत्र आदि की सुविधा है। 4 एकड़ क्षेत्रफल मे नीबू की प्रजाति लेमनकला की खेती किये है, जिसमें लगभग 1500 पौधे है। 1000 वर्ग मीटर के पोषण वाटिका मे शिमला मिर्च, ब्रोकली, फूल गोभी, पात गोभी,मिर्च, लालमूली, शलजम, चुकन्दर ,टमाटर, बैगन, वाकला , स्ट्राबेरी देखने लायक है। जो परिवार के लिये कीटनाशक मुक्त ,जैविक सब्जियों का स्रोत है, 10 वर्गमीटर में गेंदा फूल, डहेलिया, विभिन्न प्रकार के गुड़हल मनमोहक है, 40 वर्ग मीटर मे औषधि पौधे के रूप मे लेमनग्रास, खस, तुलसी ,पोदीना लगाया गया है। अंगूर के 6,अपराजिता, मुसम्बी , सहजन के 200 पौधे है।इन्होंने नीबू की बीजू 10,000 पौधो की नर्सरी, तथा 5000 कलमी पौधे तैयार कर रखा है। मधुमक्खी पालन 100 बक्से मे किये है। एक साहीवाल गाय है जिससे परिवार के लिये शुध्दता पूर्ण दूध मिलता है।

जिसकी बछिया भी है जो भविष्य की धरोहर है, जैविक विधि से भी खेती करने के लिये प्रयास कर रहे है। इनके प्रक्षेत्र को देखने के लिये प्रति दिन बाहर से भी किसान/ अधिकारी आते रहते है। अन्य सेवानिवृत्त लोगो एवं नवयुवको को वकील साहब से प्रेरणा लेनी चाहिए। इनहोने बांसडीह वायो इनर्जी फारमर प्रोड्यूसर कम्पनी लिमिटेड मिरिगिरी टोला बासडीह -277202 नाम से किसानों के लिए एफ.पी.ओ. बनाया है जिसमें 947 कृषक जुडे है।
श्री जयप्रकाश पाण्डेय का सम्पर्क सूत्र मोबाइल नं 9506602854 है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

कॉपीराईट एक्ट 1957
के तहत इस वेबसाईट
पर दी हुई सामग्री को
पूर्ण अथवा आंशिक रूप
से कॉपी करना एक
दंडनीय अपराध है

(c) अवधी खबर -
सर्वाधिकार सुरक्षित