---Advertisement---

राहुल गांधी की सदस्यता ख़त्म कराना संवैधानिक दुरुपयोग की पराकाष्ठा : रामकुमार पाल

1 min read


अंबेडकरनगर। साजिश करके कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी को पहले संसद स्थगित करके बोलने से रोका गया फिर संसद से सदस्यता रद्द करा दी गई। यह राहुल गांधी की आवाज नहीं बल्कि देश के गरीबों, पिछड़ों, किसानों और भ्रष्टाचार के खिलाफ बुलंद आवाज को दबाया गया है।
उक्त विचार कांग्रेस पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष सै० मेराजुद्दीन किछौछवी ने जिला किसान कांग्रेस की बैठक को संबोधित करते हुए व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जो कानून आज राहुल गांधी के कारण अस्तित्व में है उसी को साजिशन हथियार बनाकर गरीबों, पिछड़ों, किसानों के संग राष्ट्रीय एकता व अखंडता का गला घोंटा गया है। घबराहट में मोदी सरकार ने षड्यंत्र रच कर कानूनी प्रक्रिया पूरी किए बिना ही राहुल गांधी की सदस्यता समाप्त करा दिया। संपूर्ण विश्व मोदी सरकार की इस ताजातरीन तानाशाही से परिचित हुई है।
किसान कांग्रेस कार्यालय पर जिलाध्यक्ष वशिष्ठ पांडेय की अध्यक्षता और ब्लाक अध्यक्ष देवमणि पाठक के संचालन में संपन्न बैठक में बतौर मुख्य अतिथि एआईसीसी सदस्य सै० मेराजुद्दीन किछौछवी एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में पूर्व जिलाध्यक्ष राम कुमार पाल एडवोकेट के अलावा जिला कांग्रेस मीडिया प्रभारी डा० विजय शंकर तिवारी, प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के सचिव मोहम्मद जियाउद्दीन अंसारी तथा पूर्व पीसीसी सदस्य दुर्गा प्रसाद पाण्डेय आदि मौजूद थे। बैठक में देश की ज्वलंत संवैधानिक और किसानों की समस्याओं के संदर्भ में व्यापक चर्चा हुई। अधिवक्ता राम कुमार पाल ने कहा कि देश को आजादी दिलाकर विकास की बुलंदियों पर पहुंचाने वाली, विश्व का सबसे सर्वोत्तम संविधान देनेवाली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की सदस्यता जिस तरह से खत्म की गयी वह भाजपा सरकार पर अडानी के आधिपत्य की पोल खोल रही है। क्योंकि राहुल गांधी ने देश की सर्वोच्च संस्था संसद में मोदी सरकार से अडानी घोटाला के संदर्भ में सवाल पूंछा था, यह कानून और संविधान के दुरुपयोग की पराकाष्ठा है। राहुल गांधी ने मोदी सरकार द्वारा थोपी गयी मंहगाई और किसानों के खिलाफ लाये गये तीन कृषि कानूनों का विरोध किया जिससे बौखलाई हुई मोदी सरकार ने यह कृत्य कर लोकतंत्र को बंधक बना लिया। पूर्व पीसीसी सदस्य दुर्गा प्रसाद पाण्डेय ने कहा कि मंहगाई और मौसम की मार से देशवासी बेहाल हैं और भाजपा सरकार ने लोकतंत्र का गला घोंटते हुए राहुल गांधी की संसद सदस्यता खत्म करा दिया जो लोकतंत्र के माथे पर कलंक है।
किसान कांग्रेस की बैठक को जिला कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी डा० विजय शंकर तिवारी, उप्र अल्पसंख्यक कांग्रेस के सचिव मोहम्मद जियाउद्दीन अंसारी, देवमणि पाठक ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष वशिष्ठ पांडेय ने कहा कि सोमवार को आयोजित होने वाले देशव्यापी धरना-प्रदर्शन में हर गांव हर घर से किसान प्रतिभाग कर राहुल गांधी की सदस्यता खत्म करने के खिलाफ पुरजोर आवाज बुलंद करेंगे। बैठक में हाजी मोहम्मद सलीम, राममिलन यादव, मंगरूराम, रामलौटन राजभर, चंद्रभान राजभर, रमाकांत चतुर्वेदी, अख्तर जमाल अंसारी एडवोकेट, साहबदीन सरोज, सुभाष, अनिल कुमार, प्रनव तिवारी, चंदन यादव, तौहीद अहमद, सिराजुद्दीन, मनीराम, रामप्रकाश, लालजी प्रजापति तथा राजपति निषाद मौजूद रहे।

About Author

---Advertisement---

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

---Advertisement---