महिलाओं पर हाथ उठाना घोर पाप : हैदर अब्बास रिज़वी

1 min read

अंबेडकरनगर (अवधी खबर)। निरंतर सत्कर्म करते रहें जिससे घरों में बरकत और जीवन में खुशहाली बनी रहे। रिश्तों का सम्मान करने के अलावा मां, बहन, बेटी के रूप में महिलाओं का विशेष आदर करना चाहिए। औरतों पर हाथ उठाना घोर पाप है। यह बात मौलाना हैदर अब्बास रिजवी लखनऊ ने इमामबाड़ा मेहदिया पीरपुर-लोरपुर में मजलिस पढ़ते हुए कही। डाक्टर सैय्यद हैदर मेहदी आदि द्वारा अपनी मां मरहूमा शमीम बानो बिन्ते सज्जाद अली के 40वें की मजलिस को संबोधित करते हुए शनिवार को कहा कि अपने या पराए किसी पर भी जुल्म ज्यादती न करने का निर्देश दीने इस्लाम देता है। इरशाद लोरपुरी के संचालन में आयोजित मजलिस कार्यक्रम में प्रख्यात शायरे अहलेबैत शैदा आजमी, फैय्याज रायबरेलवी, असद नसीराबादी, आरिफ अनवर अकबरपुरी आदि ने कलाम पेश किया तो वहीं नैय्यर खान लोरपुरी व हमनवा ने सोजखानी किया। मौलाना नूरूल हसन रिजवी, महताब रजा रिजवी, हसन अस्करी मजलिसी, ख्वाजा शफाअत हुसैन, सैयद मुज्तबा हुसैन, शब्बर हुसैन, मेहदी रजा आफताब, डॉ. अली मेहदी जैदी, तस्लीम रिजवी, मूनिस जाफरी एडवोकेट, मोहसिन जाफरी सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम समापन के उपरांत अब्बास मेहदी एवं अहमद मेहदी ने उपस्थित जनों के प्रति आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *