महिलाओं को रोड जाम करना पड़ा भारी पुलिस ने किया लाठीचार्ज, बेरहमी से की पिटाई.

1 min read

अवधी खबर

अंबेडकर नगर। शनिवार को बाबा भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के चेहरे पर कालिक पोतने को लेकर बाबा भीमराव अंबेडकर के समर्थकों ने रोड जाम कर दिया था, जिसके फलस्वरूप शासन- प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी और देर शाम को सुलह समझौता हो सका था।अभी यह मामला शांत भी नहीं हुआ था कि रविवार को बाबा भीमराव अंबेडकर के प्रतिमा के पास स्थित जमीन में एक युवक के द्वारा नीव खोदने को लेकर काफी बवाल हो गया। ग्रामीणों का आरोप था कि जिस जमीन में नींव की खुदाई की गई वह अंबेडकर पार्क की जमीन है इसके पूर्व में भी उस जमीन को लेकर के ग्रामीणों और युवक के बीच झड़प हो चुका था।जिसके फलस्वरूप काफी संख्या में महिलाएं इकट्ठा होकर रोड जाम कर दिया। सूचना पाकर जलालपुर थाने की पुलिस, जलालपुर एसडीएम हरि शंकर लाल, तहसीलदार धर्मेंद्र कुमार और अन्य सहकर्मियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर मामले को शांत कराने का प्रयास करना शुरू कर दिए। एसडीएम हरि शंकर लाल ने महिलाओं को बारी-बारी समझा-बुझाकर मामले को शांत करवाना चाहा, परंतु महिलाएं इतनी उत्तेजित थी की वह एसडीएम की बात को अनसुनी कर दी। महिलाओं कहना था की पुलिस ने रुपया लेकर नीव खुदवाया है, अगर ऐसा हुआ है तो वह पुलिस प्रशासन से जवाब चाहती हैं। बात बढ़ते – बढ़ते यहां तक पहुंच गई कि महिला कांस्टेबल प्रीति सिंह और महिलाओं के बीच झड़प शुरू हो गया। देखते ही देखते जब तक लोग मामले को समझ पाते तब तक पुलिस प्रशासन ने लाठीचार्ज कर दिया।माहौल इतना भयावह हो गया देखते ही देखते भगदड़ मच गई। पुरुष व महिलाएं अपने को बचाते हुए इधर-उधर छिपने का प्रयास करने लगे। लाठीचार्ज के दौरान पुलिसकर्मियों ने महिलाओं की बड़ी बेरहमी से पिटाई कर दी कई महिलाएं गिरकर अचेत अवस्था में हो गई। कुछ लोगों ने पुलिस प्रशासन पर पत्थरबाजी आरंभ कर दी। जिसके फलस्वरूप पुलिस ने काफी तन्मयता दिखाते हुए लोगों को खदेड़ने का कार्य किया। तत्पश्चात पुलिस प्रशासन ने घटनास्थल से जमालपुर चौराहे तक पैदल मार्च कर लोगों को खदेड़ने का कार्य और दुकानों को बंद करवा दिया। जिससे लोग इकट्ठा ना हो सके इस घटना से क्षेत्र में गहमा गहमी का माहौल बना हुआ है। हर तरफ सरगर्मी फैली हुई है, चर्चाओं का माहौल गर्म है तमाम लोग आपस में चर्चाएं कर रहे हैं कुछ लोगों को कहना यह है कि जो भी हुआ ठीक हुआ कुछ लोगों का कहना है कि एसडीएम जलालपुर हरि शंकर लाल के सामने लाठीचार्ज हुआ और वह माहौल को शांत कराने में अक्षम रहे। बुद्धजीवी लोग अपने – अपने विचार अपने- अपने ढंग से व्यक्त कर रहे हैं। पुलिस प्रशासन घटना में शामिल लोगों को काफी सतर्कता से खोजबीन कर रही है और कुछ लोगों को पुलिस ने अपने हथकंडे में लेकर पूछ-तांछ भी कर रही है। कोतवाल जलालपुर संत कुमार सिंह ने बताया कि मामले को तूल पकड़ाने वाले लोगों पर मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *