कटघरमूसा में ईदमीलादुन्नबी दुरूदो सलाम के साथ संपन्न.

1 min read

अंबेडकरनगर। जलालपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम कटघरमूसा में जश्ने ईदमीलादुन्नबी का वार्षिक कार्यक्रम जलसा आयोजित हुआ। नाते पाक, तकरीर और दुरूदो सलाम से पैगंबर हजरत मुहम्मद साहब के प्रति आस्था प्रकट की गई।
अंजुमन फैजान-ए-रसूल के तत्वावधान में संपन्न जलसे का आगाज हाफिज कलीमुल्लाह ने तिलावते कलाम पाक से किया। मुख्य अतिथि मौलाना वासिल अख्तर अशरफी ने संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया में सबसे बड़ा मजहब इंसानियत का है। क्यों कि इस्लाम सहित सभी धर्म मानवता की नींव पर खड़े हैं। अध्यक्षता कर रहे मौलाना इस्तेखार रजा अशरफी ने कहा रसूले अकरम के सादगीपूर्ण जीवन से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है। मौलाना ताबिश पैकर अकबरपुरी के अतिरिक्त शायरे इस्लाम मुजीब अहमद जमाली अकबरपुरी, मुहम्मद कमाल अकबरपुरी, सैयद अहमद शम्सी, हाफिज मुहम्मद ओसामा, शौकत अली ने नवासे रसूल हजरत इमाम हुसैन व उनकी चहेती बेटी जनाबे फात्मा जहरा के सम्मान में नात किया। ओसामा, एहतेशाम व मुहम्मद शाहिद ने अतिथियों का स्वागत किया। मुहम्मद आरिफ, फैजान सिद्दीकी, मुहम्मद शोएब, दिलशाद अब्बास, शमसुद्दीन खान, अब्दुल लतीफ, जफर रफीक, मुहम्मद सुफियान, अबूजैद, अख्तर रफीक, मुहम्मद इमरान, मुहम्मद फैसल आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *