विश्व खाद्य दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का हुआ आयोजन.

1 min read

आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत श्री अग्रसेन कन्या पी0जी0 कॉलेज,वाराणसी के परमानंदपुर परिसर में विश्व खाद्य दिवस 2022 के अंतर्गत गृह विज्ञान विभाग में
” मिलेट्स की उपयोगिता पर अभियान” कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान आहार एवं पोषण विज्ञान प्रयोगशाला में “स्वस्थ पोषणीय इंद्रधनुषीय प्रतियोगिता ” का आयोजन किया गया जिसमें छात्राओं ने सभी खाद्य समूह का प्रयोग करके आकर्षक रंगोली का निर्माण किया । इस अवसर पर महाविद्यालय की प्रबंधक डॉ मधु अग्रवाल ने छात्राओं के कार्य की सराहना और कहा कि माेटे अनाज ऊर्जा के स्रोत के साथ-साथ प्रोटीन व अन्य पोषक तत्वों की प्राप्ति के अच्छे साधन हैं। सहायक मंत्री डा रूबी साह ने अपने प्रतिदिन के आहार में मोटे अनाज को किसी न किसी रूप में शामिल करने हेतु सभी का आह्वान किया,उन्होंने रागी, फ्लेक्सी सीड, ज्वार – बाजरा, जौ जैसे अनाज की उपयोगिता और उनके पोषण के महत्व को भी रेखांकित किया। इस कार्यक्रम में महाविद्यालय की प्राचार्य प्रोफेसर मिथिलेश सिंह ने छात्राओं को बताया कि मोटे एवं सस्ते अनाज भोजन आधार होने के साथ-साथ मधुमेह व मोटापे जैसी बड़ी समस्याओं को दूर करने में भी सहायक है। इस अवसर पर कला, मानविकी एवम सामाजिक विज्ञान संकाय प्रमुख डॉ ओ पी चौधरी ने छात्राओं की मेहनत और लगन की प्रशंसा की। संपूर्ण कार्यक्रम डॉ अनीता सिंह की देखरेख में संपन्न हुआ। कार्यक्रम के दौरान आयोजित प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में डॉ अर्चना सिंह (हिंदी), डॉ संध्या ओझा, डॉ सोनम चौधरी रहीं। कार्यक्रम का संचालन डॉ रुचि त्रिपाठी एवं धन्यवाद ज्ञापन दिव्या पाल ने किया। इस अवसर पर अंजली त्यागी, डॉ अर्चना श्रीवास्तव , डॉ भावना शर्मा, डॉ सुमन तिवारी, डॉ नीलू गर्ग, डॉ सीमा अस्थाना, डॉ उषा बालचंदानी उपस्थित रहे। प्रतियोगिता में कुल 41 छात्राओं ने प्रतिभाग किया जिसमें अंजली मौर्या ने प्रथम स्थान, रीना पटेल ने द्वितीय स्थान, सौम्या सोनकर ने तृतीय स्थान आंचल एवं प्राची सिंह ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया।

डॉ ओ पी चौधरी
मीडिया प्रभारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *