दूषित पानी पीने के लिए मजबूर हुआ सपरिवार

1 min read

भीटी विकासखंड अंतर्गत धर्मपुर गांव का है मामला

अवधी खबर

अम्बेडकरनगर।ग्राम पंचायत के चुनाव से संबंधित रंजिश होने के कारण वर्तमान प्रधान की वजह से दूषित पानी पीने के लिए सपरिवार को मजबूर होना पड़ रहा है। मामला बेटी ब्लाक अंतर्गत धर्मपुर गांव का है जहां गांव निवासी आदित्य प्रताप सिंह पुत्र रविंद्र कुमार सिंह ने एडीओ पंचायत को लिखित शिकायत पत्र देकर इंडिया मार्का नल को रिबोर करवाने की मांग की है।
आपको बताते चलें कि द्वार पर लगा हुआ इंडिया मार्का नल खराब होने के कारण दूषित पानी दे रहा है जिसकी शिकायत आदित्य प्रताप सिंह ने संबंधित अधिकारियों से लगभग 1 साल से बार- बार शिकायत कर रहे हैं परंतु नल रिबोर नहीं हो पा रहा है। जबकि ग्राम पंचायत अधिकारी मयंक चतुर्वेदी ने स्थलीय निरीक्षण कर संबंधित विभाग को दूषित पानी होने का रिपोर्ट भी प्रेषित कर दिया है, परंतु ग्राम प्रधान इतने दबंग है कि वे नल को रिबोर नहीं होने दे रहे हैं। जिसके कारण आदित्य प्रताप सिंह का पूरा परिवार दूषित पानी पीकर संक्रमित रोगों से जूझने के लिए मजबूर है और सरकार के दावे का स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत के मिशन को चुनौती दे रहे हैं। भारत सरकार दावा करती है कि समस्त देशवासियों को स्वच्छ जल , स्वास्थ्य सुविधा, बिजली सड़क आदि अनेक अति आवश्यक वस्तुओं की सुविधा प्रत्येक परिवार तक पहुंचाने का दावा करती है परंतु यह दावा ग्राम प्रधान धरमपुर ने अपनी चुनावी रंजिश के कारण सरकार के दावे को खोखला साबित कर रहे हैं और परिवार दूषित पानी पीकर संक्रामक रोगों से लड़ने के लिए मजबूर है। यदि समय रहते हुए आदित्य प्रताप सिंह पुत्र रविंद्र कुमार सिंह के द्वार पर लगा हुआ इंडिया मार्का नल रिबोर नहीं किया गया तो आदित्य कुमार सिंह का परिवार कभी भी किसी भी समय असाध्य रोगों से ग्रसित हो सकता है। पीड़ित ने बताया जिसके जिम्मेदार पूर्ण रूप से ग्राम प्रधान व संबंधित अधिकारीगण होंगे। अब मैं भगवान भरोसे मजबूर होकर इस पानी का सेवन कर रहा हूं, जो भी होगा वह सरकार व ग्राम प्रधान और संबंधित अधिकारीगण उसके जिम्मेदार होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *