टाण्डा ब्लाक में भ्रष्टाचार का बोलबाला,अकाउंटेंट बाबू और प्रधान के बीच लेन-देन की ऑडियो वायरल

1 min read
भ्रष्टाचार

अम्बेडकरनगर,अवधी खबर (बृजेश कुमार)। क्या जनपद की टांडा ब्लॉक धनकुबेर है जो इतनी लाखों रुपये की डिमांड कर अकाउंटेंट बाबू द्वारा खंड विकास अधिकारी को धन देने के लिए विकास कार्य कराने के नाम पर प्रधान से बात कर रहा है। वही प्रदेश की योगी सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाकर भ्रष्टाचार अधिकारियों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। लेकिन यहां जिले के अधिकारियों को जरा सा भी खौफ नहीं है। टांडा ब्लाक में तैनात अकाउंटेंट बाबू गिरीश गुप्ता और प्रधान संघ अध्यक्ष के बीच साढ़े आठ लाख रुपये लेन-देन की ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें प्रधान से विकास कार्यों के नाम पर खंड विकास अधिकारी को देने के लिए पैसे की डिमांड कर्मचारी कर रहा है।

इतने लाखों रुपए की कमीशन खंड विकास अधिकारी द्वारा लेकर प्रदेश के विकास कार्यों में पलीता लगा रहा है। सूत्रों ने बताया कि टांडा खंड विकास अधिकारी अरुण कुमार पांडे अपने आप को पावरफुल समझता है, और ब्लॉक के सभी प्रधान से कमीशन लेकर काम करने का दबाव बनाता है। प्रधान संघ अध्यक्ष महेंद्र वर्मा ने बताया की हम टाण्डा ब्लॉक में गए थे उस दौरान अकाउंटेंट बाबू गिरीश गुप्ता और अखिलेश मौर्या से बात चीत कर रहे थे उन्होंने बताया की जितने लोगों का आप डागल लगवाएं हैं। उतने का 21 लाख रुपये कमीशन हो रहा है।

जिसमे से 7 लाख बीडीओ साहब को दे दिया गया है। और 11 लाख रुपया अभी बाकी हैं। उसको जल्दी दिलवा दीजिए क्यों की डागल मेरे द्वारा लगवाया गया है। खंड विकास अधिकारी टांडा अरुण कुमार पांडे ने कहा कि मुझे टांडा ब्लाक में आए हुए 4 महीना हो गया और मेरे द्वारा ऐसा कोई कार्य नहीं किया गया कि जो आरोप लगाया जाए। हां हो सकता है कि इसके पहले वाले बीडीओ की बात कर कोई मंत्र गणन कहानी बना रहा हो। जांच होने बाद ही स्पष्ट होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *