कृषि विज्ञान केंद्र पाँती में पोषण अभियान एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम का किया गया आयोजन

1 min read

कृषि विज्ञान केंद्र पाँती में पोषण अभियान एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम का किया गया आयोजन

अम्बेडकरनगर अवधी खबर (बृजेश कुमार)। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं औद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या के नेतृत्व में कृषि विज्ञान केंद्र पाँती अंबेडकर नगर में 17 सितम्बर 2022 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस के अवसर पर उपस्थित कृषकों महिलाओं तथा बच्चों को पोषण अभियान एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम में मानव पशु, पक्षी वनस्पति के बेहतर स्वास्थ्य हेतु वैज्ञानिक ज्ञानार्जन कराया गया। कार्यक्रम के आयोजक व इफको के क्षेत्राधिकारी डॉ. देवी प्रसाद ने इफको के उत्पाद उनके प्रयोग तथा विपणन की जानकारी दी। एम०सी० के पदाधिकारी डॉ. अभिषेक मिश्रा ने विभिन्न खाद उर्वरक कृषि तथा रसायन,जैविक उत्पादकों के प्रयोग मूल्य सुरक्षा व बिक्री के बारे में सुझाव दिया। वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ.प्रदीप कुमार ने इफको नाइट्रोजन, इफको जिंक, इफको कापर ,सहित सागरिका तथा विभिन्न खाद व उर्वरक व कृषि रक्षा रसायनों के प्रयोग व लाभ हानि के बारे में विस्तार से समझाया इफको के उत्पाद आधुनिक कृषि के लिए बहुत ही उपयोगी है, कृषि व पशुपालन में बढ़ते रसायन प्रयोग से अधिकतर खाद्य, सामग्री रसायन प्रदूषित हैं।

जिससे अनेक असहाय रोग बढ़ने से रोकने के लिए पोषण अभियान के स्वास्थ्य तथा वृक्षारोपण से पर्यावरण सुधार संभव है। वरिष्ठ सह. वैज्ञानिक डॉ.वीना सचान ने मानव स्वास्थ्य जीवन यापन में खाद सुरक्षा व पोषण सुरक्षा के अंतर्गत अच्छा स्वास्थ्य वर्धक पोषण का ज्ञानार्जन भी कराया। उन्होंने पोषण वाटिका के महत्व आहार श्रृंखला तकनीकी जानकारी दी। वरिष्ठ वैज्ञानिक व अध्यक्ष डॉ.रामजीत ने आधुनिक कृषि में व्यवसायिक अपनाने खाद्यान्न, दलहन, तिलहन के अतिरिक्त फूल,फल, सब्जी व मसाला के विभिन्न कृषि उधम मशरूम उत्पादक ,शहद उत्पादक, मधुमक्खी पालन, केंचुआ पालन, घरेलू मुर्गी पालन भेड़ बकरी पालन सहित गन्ना उत्पादक की जानकारी दी। ताकि कृषकों की आय में वृद्धि संभव हो। वैज्ञानिक डॉ. रामगोपाल यादव ने जैविक खेती सहित कृषि विविधीकरण करते हुए कृषि पशुपालन,मछली पालन, मुर्गी पालन, बत्तख पालन, सहित संपूर्ण कृषि व्यवसाय अपनाकर अधिक आय प्राप्त कर सकें। उन्होंने तिलहन व दलहन उत्पादक की जैविक खेती में उपयोगिता पर प्रकाश डाला ताकि कम खाद्य उर्वरक व कम पानी प्रयोग किया जाए। वरिष्ठ वैज्ञानिक पशुपालन डॉ. विद्यासागर ने प्राकृतिक खेती में उत्पादक प्रौद्योगिकी के साथ साथ बीज अमृत जीव अमृत तथा तरल खाद्य पदार्थ, कीटनाशक बनाने एवं प्रयोग की जानकारी दी।

उद्यान वैज्ञानिक डॉ. प्रदीप कुमार मौर्य जैविक सब्जी उत्पादक फल,फूल मसाला संबंधित व औषधि खेती की वैज्ञानिक जानकारी दी। कार्यक्रम के अंतिम प्रहर में उपस्थित कृषकों व महिलाओं की सब्जी,बीज किट तथा वृक्ष सहित अन्य सामग्री प्रदान की गई। मुख्य रूप से अखिलेश कुमार वर्मा इफको बाजार रगड़गंज,देव नारायन पाण्डेय केला उत्पादक, अजय कुमार सिंह खाद्यान फसल, अभिषेक मिश्रा इफको एम०सी के साथ उन्नत कृषक दिलीप कुमार गुप्ता मशरूम उत्पादक, हरवंश सिंह सब्जी उत्पादक, परशुराम वर्मा मक्का, सब्जी व धान की उन्नति कृषक, शकुंतला यादव सहित अन्य लोग उपस्थित रहे। डॉ. प्रदीप कुमार कृषि विज्ञान केन्द्र अम्बेडकर नगर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *