रब के सामने झुकोगे तो लोगों के आगे नहीं झुकना पड़ेगा : मौलाना कैसर अब्बास

1 min read

रब के सामने झुकोगे तो लोगों के आगे नहीं झुकना पड़ेगा : मौलाना कैसर अब्बास

अंबेडकरनगर। मोहल्ला लोरपुर ताजन स्थित करबला में नवासए रसूल हजरत इमाम हुसैन की बेटी जनाबे सकीना की स्मृति में यौम-ए-सकीना का वार्षिक कार्यक्रम अंजुमन जाफरिया के तत्वावधान में गुरुवार को संपन्न हुआ। भारी संख्या में उपस्थित अकीदतमंदों ने आंसुओ का नजराना पेश किया।
मौलाना सैयद कैसर अब्बास ने प्रारंभिक मजलिस को संबोधित करते हुए कहा सांसारिक शक्तियों के आगे झुकना बंद करो वर्ना सिवा रुसवाई के कुछ हाथ न आएगी। उन्होंने जोर देकर कहा कि अल्लाह के आगे झुकोगे तो गुनाहगार इंसानों के सामने सर खम करने की नौबत नहीं आएगी। मौलाना अली मेहदी अज्मी, मौलाना निजाम अब्बास ने भी संबोधित किया। उससे पूर्व नैय्यर लोरपुरी, इरशाद लोरपुरी, शजर आदि ने सोजख्वानी किया।
तत्पश्चात मौलाना मोहम्मद हैदर जलालपुरी ने एक एक करके अलम, ताबूत मुबारक, गहवारा, दुलदुल जैसे तबर्रुकात का परिचय कराया तो सुनकर अजादार द्रवित हो गए। संचालन कर रहे शजर लोरपुरी ने नौहोमातम के लिए सर्वप्रथम अंजुमन अब्बासिया पीरपुर को आवाज दिया तो उन्होंने शायर शरर नकवी का कलाम ऐ मेरे बाबा नींद मुझे नहीं आती है पढ़ कर लोगों ध्यान आकृष्ट किया। इसी क्रम में अंजुमन मोईनुल अजा दाऊदपुर के लोगों ने नौहा पढ़ा या सानिए जहरा, तेरा खुत्बा आलीशान या सानिए जहरा। जबकि अंजुमन जाफरिया कदीम मुस्तफाबाद-जलालपुर, हैदरिया नगपुर-जलालपुर, मोईनुल अजा दाऊदपुर, बर्क हैदरी सिंझौली, अब्बासिया पीरपुर के अलावा अंजुमन मासूमिया, हुसैनिया व अंजुमन जाफरिया लोरपुर ने भी सिलसिलेवार नौहा प्रस्तुत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *