बेहताशा महंगाई के ख़िलाफ़ आप का ज्ञापन

1 min read

अम्बेडकरनगर। आम आदमी पार्टी अम्बेडकर नगर के जिला अध्यक्ष राजेंद्र कुमार वर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओ ने देश में बढ़ती महंगाई को रोकने के लिए जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चल रहीं भाजपा की सरकार ने पिछले दिनों खाने-पीने सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी लगाकर आटा, दाल, दूध, अस्पताल के कपड़ें जैसे रोजमर्रा के खाद्य पदार्थों का मूल्य बढ़ाने का कार्य किया हैं, पहले से ही कमर तोड़ महंगाई की मार झेल रहीं आम जनता को मोदी के इस दमन कारी फैसले ने हिला कर रख दिया । डीजल,पेट्रोल,गैस के बढ़े हुए मूल्य से पहले से परेशान जनता को सरसों का तेल 250 रुपये लीटर तक खाने को मजबूर किया गया और अब बच्चों के दूध पर भी जीएसटी लगा दिया गया। विचारणीय हैं कि क्या सरकार गरीबों, मजदूरों, किसानों, छोटे- मध्यम व्यापारियों के लिये कार्य कर रहीं हैं, जवाब मिलेगा नहीं, बल्कि सरकार पूंजीपतियों के लिये कार्य करती दिख रहीं हैं। कार्पोरेट टैक्स (पूंजीपतियों पर लगने वाला टैक्स) को घटाकर 30℅ से 22℅ कर दिया। इस टैक्स को कम करने से 01 लाख 45 हजार करोड़ का घाटा देश को उठाना पड़ेगा। महंगाई कम करने के लिए मोदी सरकार के पास पैसा नहीं, किसानों के लिए मोदी सरकार के पास पैसा नहीं, बेरोजगारों को रोजगार देने के लिए मोदी सरकार के पास पैसा नहीं l लेकिन अपने चंद पूंजीपतियों मित्रों के लिए मोदी सरकार ने ₹11 लाख करोड़ चंदा माफ कर दिया l आपको बता दे कि अडानी ने ₹2.5 लाख करोड़, विजय माल्या ने ₹10 हजार करोड़ , ललित मोदी ने ₹2.5 हजार करोड़ , नीरव मोदी ने ₹20 हजार करोड़ , नितिन सरदेसाई ₹06 हजार करोड़ लेकर हिंदुस्तान छोड़कर भाग गए l आपका जो पैसा बैंको में था, उसे ऐ चंद लुटेरे डकार गयें, बैंक खाली हो गया, खजाने खाली हो गयें और मोदी जी खाली खजाने को भरने के लिये आमजन के प्रयोग की रोजमर्रा के वस्तुओं पर टैक्स लगाकर खजाना भरने के जुगत में हैं। आज डॉलर की कीमत 80 रुपये के बराबर हैं और इसका फायदा चंद पूँजीपति भष्ट्राचारियों को पहुँचेगा, जिनका पैसा डॉलर के रूप में विदेशों में जमा हैं और आमजन को महंगाई की मार झेलनी पड़ेंगी क्योंकि विदेशों से आयात सामान की लागत ज्यादा होंगी और महंगाई बढ़ती जायेंगी।
आम आदमी पार्टी बढ़ती महंगाई पर चुप नहीं बैठेंगी, इस कुव्यवस्था पर आवाज बुलंद करेंगी और गरीब विरोधी सरकार के खिलाफ संघर्ष और तेज करेगी ।
आम आदमी पार्टी मांग करती हैं कि यदि बढ़ती हुई महंगाई को रोकने हेतु कोई ठोस सार्थक कदम सरकार द्वारा अविलंब नहीं उठाया गया तो वृहद स्तर पर आंदोलन किया जायेगा।
ज्ञापन देने वालों में राजेन्द्र वर्मा, अनीता यादव, विनोद पटेल, सौरभ वर्मा, कासिम अब्बास, सौरभ मिश्रा, राम सूरत आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *